अपना शहर चुनें

States

अजब गजब: यहां दहेज में बहू सोना-चांदी नहीं, लेकर आती है 21 जहरीले सांप, जानिए पूरा सच

रीति रिवाज के तहत गौरैया समाज के लोग गहुआ और डोमी प्रजाति के सांप दहेज में देते हैं. (सांकेतिक तस्वीर)
रीति रिवाज के तहत गौरैया समाज के लोग गहुआ और डोमी प्रजाति के सांप दहेज में देते हैं. (सांकेतिक तस्वीर)

इन सांपो को पकड़ने की जिम्मेदारी लड़की के पिता की होती है. लड़की की शादी तय होने के बाद से ही पिता इन सांपों को पकड़ने में जुट जाता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 26, 2021, 7:58 PM IST
  • Share this:
भोपाल. भारत में जहां एक तरफ दहेज लेना और देना दोनों ही अपराध माना जाता है वहीं मध्य प्रदेश में दहेज के रूप एक अजीबोगरीब प्रथा को अभी भी अपनाया जा रहा है. अक्सर देखा जाता है कि लड़की पक्ष से दान दहेज के नाम पर सोना-चांदी और गाड़ी इत्यादि की मांग की जाती है, लेकिन अगर कोई लड़की अपने ससुराल इन सब चीजों की जगह 21 जहरीले सांप लेकर जाती है तो क्या होगा? मध्य प्रदेश में ऐसी ही एक प्रथा को आज तक अपनाया जा रहा है.

मध्य प्रदेश में गौरैया समाज में लड़की पक्ष की तरफ से वर पक्ष को 21 खतरनाक सांप दहेज के रूप में दिए जाते हैं. माना जाता है कि ऐसा नहीं करने पर लड़की की शादी भी टूट सकती है या तो किसी प्रकार की अप्रिय घटना भी घट सकती है. वहीं माना जाता है कि अगर दहेज में सांप नहीं दिए गए तो लड़की शादी के बाद खुश नहीं रहेगी.





रीति रिवाज के तहत गौरैया समाज के लोग गहुआ और डोमी प्रजाति के सांप दहेज में देते हैं. यह सांप इतने जहरीले होते हैं कि एक बार काटने भर से इंसान की मौत हो जाए. इसमें दिलचस्प यह है कि इन सांपो को पकड़ने की जिम्मेदारी लड़की के पिता की होती है. लड़की की शादी तय होने के बाद से ही पिता इन सांपों को पकड़ने में जुट जाता है.
दरअसल गौरैया समाज के लोग पेशे से सांप पकड़ने का काम करते हैं. ये लोग सपेरा के रूप में अपना जीवन यापन करते हैं. ऐसे में दहेज में मिलने वाले सांप ही उनकी आजीविका का साधन होते हैं. जिसमें सांप का खेल दिखाकर और उसका जहर बेचकर ये लोग पैसे कमाते हैं. हालांकि वन विभाग लम्बे समय से इन लोगों को इस अंधविश्वास से दूर करने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन फिर भी यह प्रथा आए दिन यहां नजर आ ही जाती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज