बैंक मैनेजर का फर्जीवाड़ा, 7 लाख की जगह 17 लाख रुपए निकाले
Dewas News in Hindi

बैंक मैनेजर का फर्जीवाड़ा, 7 लाख की जगह 17 लाख रुपए निकाले
जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक की उदयनगर शाखा के प्रबंधक द्वारा एक चैक पर ओवर राइटिंग कर 7 लाख के स्थान पर 17 लाख रुपए की राशि निकालने का मामला सामने आया है। प्रकरण में कलेक्टर ने जिला सहकारी बैंक देवास के महाप्रबंधक को मैनेजर को तुरंत निलंबित कर पुलिस में गबन का मामला दर्ज कराने के आदेश दिए है।

जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक की उदयनगर शाखा के प्रबंधक द्वारा एक चैक पर ओवर राइटिंग कर 7 लाख के स्थान पर 17 लाख रुपए की राशि निकालने का मामला सामने आया है। प्रकरण में कलेक्टर ने जिला सहकारी बैंक देवास के महाप्रबंधक को मैनेजर को तुरंत निलंबित कर पुलिस में गबन का मामला दर्ज कराने के आदेश दिए है।

  • Share this:
जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक की उदयनगर शाखा के प्रबंधक द्वारा एक चैक पर ओवर राइटिंग कर 7 लाख के स्थान पर 17 लाख रुपए की राशि निकालने का मामला सामने आया है। प्रकरण में कलेक्टर ने जिला सहकारी बैंक देवास के महाप्रबंधक को मैनेजर को तुरंत निलंबित कर पुलिस में गबन का मामला दर्ज कराने के आदेश दिए है।

यह है मामला:

प्रबंधक आदिम जाति सहकारी संस्था चन्द्रपुरा द्वारा किसान पद्म गजराज सिंह राठौर को 7 लाख रुपए का चेक क्रमांक 27997 दिनांक 22 जुलाई 2013 जारी किया गया। जब वह चेक के भुगतान के लिए जिला सहकारी बैंक शाखा उदयनगर गया तो वहां के प्रबंधक द्वारा निकासी स्पिल से उसे दिनांक 22 जुलाई 2013 को 7 लाख रुपए का भुगतान किया गया।



वहीं शाखा प्रबंधक द्वारा चैक पर कूटरचना कर 7 लाख को 17 लाख कर दिया गया। शेष 10 लाख रुपए की राशि का गबन किया गया। अब इसी राशि को वसूलने के आदेश भी दिए गए है।
आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading