MP By-election: हाटपिपल्या में भाजपा के मनोज चौधरी ने कांग्रेस के राजवीर को हराया, ये हैं जीत की 3 वजह

भाजपा के मनोज चौधरी ने कांग्रेस के राजवीर बघेल को शिकस्त दी.
फोटो क्रेडिट:- Facebook
भाजपा के मनोज चौधरी ने कांग्रेस के राजवीर बघेल को शिकस्त दी. फोटो क्रेडिट:- Facebook

मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के देवास (Dewas) जिले के हाटपिपल्या विधानसभा (Dewas Assembly) क्षेत्र से भाजपा के मनोज चौधरी (Manoj Choudhary) जीत गए हैं. जानिए क्या रही इनके जीत की 3 प्रमुख वजह...

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 10, 2020, 5:20 PM IST
  • Share this:
हाटपिपल्या (देवास). मध्यप्रदेश के देवास जिले के हाटपिपल्या विधानसभा सीट के लिए हुए उपचुनाव में भाजपा के मनोज चौधरी जीत गए हैं. उन्होंने कांग्रेस के राजवीर बघेल को शिकस्त दी. साल 2018 में जहां वे कांग्रेस के टिकट से विधानसभा पहुंचे थे, वहीं इस चुनाव में भाजपा की तरफ से जीत हासिल की है. आपको बता दें कि इस सीट पर भाजपा-कांग्रेस प्रत्याशियों के पिता भी चुनाव में आमने-सामने हो चुके हैं. इस बार दोनों ही अपने बेटों के लिए चुनाव मैनेजमेंट संभाल रहे थे. यहां पर भी दोनों के बीच कांटे की टक्कर थी. ऐसे में आइए जानते हैं 1.91 लाख मतदाताओं वाले हाटपिपल्या सीट पर क्या रही भाजपा के मनोज चौधरी के जीत की 3 सबसे बड़ी वजह...
1. यह विधानसभा सीट यूं तो भाजपा का गढ़ रहा है, लेकिन साल 2018 में पूर्वमंत्री दीपक जोशी को हटाने से यहां भाजपा की हार हुई थी. क्षेत्र में दीपक जोशी की अच्छी पकड़ है. इस बार वे भाजपा प्रत्याशी के साथ थे, जिसकी वजह से भाजपा ने फिर से इस सीट पर कब्जा जमा लिया.
2. चुनाव से ठीक पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने देवास से जोड़ने वाले नेवरी-हाटपिपल्या मुख्यमार्ग को बनाने के लिए उद्घाटन किया था. इसके अलावा बादली को तहसील बनाने का वादा भी किया था. इस वजह से लोगों ने भाजपा प्रत्याशी को जीत दिलाई.
3. हाटपिपल्या क्षेत्र में पानी की बहुत किल्लत है. इससे लोग काफी परेशान होते हैं. ऐसे में शिवराज सिंह ने पाइप के जरिए नर्मदा के पानी को लाने का वायदा किया. इस मुद्दे ने भी लोगों भाजपा को भाजपा प्रत्याशी के साथ ला खड़ा किया. वहीं, 2018 में कांग्रेस के टिकट पर जीते मनोज चौधरी के पिता भी कांग्रेस से विधायक रह चुके हैं. ऐसे में बहुत से कांग्रेसी मतदाताओं ने भी मनोज को वोट किया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज