देवास में काम दिलाने के नाम पर 20 वर्षीय युवती के साथ गैंगरेप

एसपी देवास अंशुमान सिंह घटना के बारे में बताते हुए
एसपी देवास अंशुमान सिंह घटना के बारे में बताते हुए

देवास में काम दिलाने के नाम पर खरगोन की एक 20 वर्षीय युवती से गैंगरेप होने का मामला सिटी कोतवाली पुलिस ने दर्ज किया गया है.मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी मनोज और एक युवती श्रुति उर्फ रश्मि उर्फ नारिया को गिरफ्तार किया है.

  • Share this:
सतना,मंदसौर की दुष्कर्म और सागर की सामूहिक दुष्कर्म की घटनाओं के बाद अब खरगोन जिले की रहने वाली युवती के साथ देवास में काम दिलाने के नाम पर सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है.सागर और देवास की घटनाओं में सबसे शर्मनाक बात यह है कि दोनों में महिलाएं महिला जाति की दुशमन बनीं और पुरुषों आरोपियों के साथ साजिश रचने और दुष्कर्म कराने में बराबर की भागीदारी की.देवास में भी खरगोन की तरह एक 20 वर्षीय युवती को नौकरी दिलाने के बहाने के नाम पर बहला फुलसा उनका सामूहिक दुष्कर्म किया गया.

देवास में काम दिलाने के नाम पर खरगोन की एक 20 वर्षीय युवती से गैंगरेप होने का मामला सिटी कोतवाली पुलिस ने दर्ज किया गया है.पीड़िता के मुताबिक आरोपी मनोज और श्रुति ने उसे उज्जैन से देवास काम दिलाने के बहाने बुलाया था.पीड़ित युवती के मुताबिक उसको बांधकर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया. मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी मनोज और एक युवती श्रुति उर्फ रश्मि उर्फ नारिया को गिरफ्तार कर लिया वहीं बाकी तीन आरोपी फरार हैं.पुलिस तीनों की सरगर्मी से तलाश कर रही है. देवास एसपी अंशुमान सिंह ने इस बात की उम्मीद जताई कि फरार आरोपियों को पुलिस जल्द ही पकड़ लेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज