Home /News /madhya-pradesh /

madhya pradesh nikay chunav bjp fake candidate list gone viral on social media congress took jibe nodps

निकाय चुनावों से पहले भाजपा पार्षद उम्मीदवारों की फर्जी सूची वायरल, कांग्रेस ने ली चुटकी, बोले- नाटक-नौटंकी...

सोशल मीडिया पर देवास के 45 वार्डों से भाजपा उम्मीदवार पार्षदों की एक सूची जमकर वायरल हो रही है.

सोशल मीडिया पर देवास के 45 वार्डों से भाजपा उम्मीदवार पार्षदों की एक सूची जमकर वायरल हो रही है.

मध्यप्रदेश में निकाय चुनाव लंबे समय से टल रहे हैं. अब इन चुनावों को लेकर एक बार फिर सुगबुगहट तेज हो चली है. प्रदेश के देवास जिले में भाजपा के उम्मीदवारों की फर्जी सूची सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है. इस सूची के वायरल होने के बाद हड़कंप मच गया है. हालांकि भाजपा जिलाध्यक्ष का कहना है कि यह सोची समझी साजिश के तहत किया जा रहा है. वहीं सूची के वायरल होने के बाद कांग्रेस नेताओं ने भाजपा की चुटकी ली है.

अधिक पढ़ें ...

देवास. मध्यप्रदेश में लंबे समय से टल रहे निकाय चुनावों की सुगबुगाहट एक बार फिर देखने को मिलने लगी है. प्रदेश के देवास जिले में 45 वॉर्डों पर होने वाले चुनावों की तैयारियां शुरू कर दी हैं. यहां भाजपा और कांग्रेस दोनों दल के नेता सक्रिय नजर आने लगे हैं. साथ ही बैठकों का दौर भी शुरू हो चुका है. ऐसे में सोशल मीडिया पर 45 वार्डों से भाजपा उम्मीदवार पार्षदों की एक सूची जमकर वायरल हो रही है. इस सूची पर भाजपा जिलाध्यक्ष के हस्ताक्षर भी हैं. इस सूची के इंटरनेट पर वायरल होने के बाद हड़कंप मच गया है. हालांकि पार्टी जिलाध्यक्ष की ओर से इसे फर्जी बताया जा रहा है.

वहीं कांग्रेस के नेता अब इस वायरल सूची के बाद भाजपा पर चुटकी लेते नजर आ रहे हैं. वहीं भाजपा पदाधिकारियों का कहना है कि यह एक सोची समझी साजिश के तहत किया जा रहा है. इस सूची के बारे में एसपी को भी शिकायत दे दी गई है. इसके साथ ही पार्टी स्तर पर भी जांच की जा रही है. वहीं देवास एसपी डॉक्टर शिवदयाल सिंह ने मामले को लेकर कहा कि जो सूची वायरल हुई है उसको लेकर हमारे पास आवेदन आया है. जिसमें तथ्यों के आधार पर जांच की जाएगी.

क्या बोले भाजपा पदाधिकारी
इस सूची के वायरल होने के बाद भाजपा जिलाध्यक्ष का कहना है कि जो सूची वायरल हुई है उसपर मेरे हस्ताक्षर नहीं हैं. ये एक सोचा समझा षड्यंत्र है. हमने इसको लेकर एसपी को भी पत्र लिखा है. यह सूची कहां से वायरल हुई है इसका मुख्य स्रोत पता किया जाएगा. इसके साथ ही पार्टी के जिला स्तर पर भी जांच की जा रही है. मामले में एसपी ने जांच कर तथ्यों के आधार पर सूची पर हस्ताक्षर का गलत उपयोग होने को लेकर कार्रवाई की बात भी कही है. दरअसल देवास जिले में नगरीय निकाय चुनाव भी नजदीक है.वहीं दूसरी ओर टिकिट पाने के लिए कार्यकर्ताओं में उत्साह देखा जा रहा है. मुख्य पार्टी भाजपा व कांग्रेस में आरक्षण को लेकर भी माहौल देखा जा रहा है.

कांग्रेस ने ली चुटकी
वहीं भाजपा के उम्मीदवार पार्षदों की इस सूची को लेकर कांग्रेस लगातार हमलावर है. कांग्रेस नेता प्रदीप चौधरी ने कहा कि भाजपा में गुटबाजी चरम सीमा पर है. इस पार्टी में सभी अपनी-अपनी सूची लेकर घूम रहे हैं. आने वाले दिनों में नई सूची जारी होगी. चौधरी ने कहा कि भाजपा को हमेशा ही नौटंकी के लिए कुछ चाहिए रहता है. यह भी उसी नौटंकी का हिस्सा है. बता दें कि देवास जिले में 2.5 लाख से ज्यादा मतदाता हैं जो इस बार चुनावी दंगल में जीत हार का फैसला करेंगे. अब निकाय चुनावों की सुगबुगाहट तेज हो चली है. यहां भाजपा और कांग्रेस के नेताओं ने बैठकें लेना शुरू कर दी हैं. बैठकों के बाद माना जा रहा है कि दोनों प्रमुख राजनीतिक दल निकाय चुनावों के रण की तैयारी में जुट गए हैं.

Tags: Dewas News, Madhya pradesh news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर