Home /News /madhya-pradesh /

yashodhara raje scindia offers sajjan singh verma to join bjp receives epic reply cm shivraj naraj ho jayenge viral video nodps

यशोधरा राजे सिंधिया ने दिया सज्जन सिंह वर्मा को बीजेपी में आने का ऑफर, पूर्व मंत्री ने दिया ये जवाब

वर्मा ने यशोधरा राजे सिंधिया से जिला पंचायत अध्यक्ष के बंगले के विषय में चर्चा की.

वर्मा ने यशोधरा राजे सिंधिया से जिला पंचायत अध्यक्ष के बंगले के विषय में चर्चा की.

मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया सोमवार को देवास पहुंची. यहां मुख्य कार्यक्रम के बाद यशोधरा राजे सिंधिया की मुलाकात पूर्व मंत्री रहे सज्जन वर्मा से हुई. बातचीत के दौरान यशोधरा ने सज्जन सिंह वर्मा को भाजपा में शामिल होने का ऑफर दे डाला. इस ऑफर के जवाब में पूर्व मंत्री वर्मा ने कहा कि 'शिवराज जी आने कहां देते हैं? वो नाराज हो जाएंगे. हालांकि यह सब मजाकिया अंदाज में हुई बातचीत है. इसके बाद सज्जन सिंह वर्मा ने कहा कि बीजेपी में शामिल होना जैसा कोई प्रश्न नहीं बनता.

अधिक पढ़ें ...

देवास. स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया देवास पहुंची. मुख्य कार्यक्रम के बाद वह सर्किट हाउस पहुंचीं, जहां पूर्व मंत्री रहे सज्जन सिंह वर्मा ने उनसे मुलाकात की. मुलाकात की शुरुआत में ही यशोधरा ने पूर्व मंत्री को उन्हें बीजेपी में आने का ऑफर दे दिया. यह सुनकर वर्मा ने जो जवाब दिया, उसे सुनकर सभी हंस पड़े. वर्मा ने कहा, ‘शिवराज जी आने कहां देते हैं? वो नाराज हो जाएंगे.’ इसके बाद यशोधरा राजे ने कहा कि आप जब आएं स्वागत है, इससे पार्टी को मजबूती मिलेगी. हालांकि यह मजाकिया अंदाज था, जहां पर सबने ठहाके लगाए. इसके बाद सज्जन सिंह वर्मा ने अपने मुद्दे की बात की. अब इस मुलाकात को भी बड़े बदलाव की ओर देखा जाने लगा है.

वर्मा ने यशोधरा राजे सिंधिया से जिला पंचायत अध्यक्ष के बंगले के विषय में चर्चा की. जिला पंचायत अध्यक्ष लीला अटारिया को बंगला दिए जाने को लेकर वर्मा ने अपना पक्ष प्रभारी मंत्री के समक्ष रखा और जल्द बंगला अलॉट किये जाने की मांग की. कुछ देर चली चर्चा के बाद प्रभारी मंत्री वहां से भोपाल के लिए रवाना हो गईं.

वर्मा का कहना था कि बीजेपी में शामिल होना जैसा कोई प्रश्न नहीं बनता. ये यशोधरा राजे का उनका बड़प्पन है. वो राज घराने से आती हैं. फिर उनकी बात काटना ठीक नहीं है, इसलिए कहा है कि आप हमें पार्टी में लेंगे तो आपके मुख्यमंत्री आपसे नाराज हो जाएंगे.

पूर्व मंत्री ने आगे कहा, ‘देवास में पिछले कई वर्षों से दो बंगले महापौर और जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए रिजर्व हैं लेकिन इस बार जिला पंचायत अध्यक्ष कांग्रेस की बनीं तो उनका बंगला कलेक्टर ने दूसरे अधिकारी को आवंटित कर दिया और उनके नाम की वहां नेम प्लेट भी लगा दी गई. इसी मुद्दे पर में प्रभारी मंत्री से चर्चा हुई.

Tags: Dewas News, Madhya pradesh news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर