होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /मध्य प्रदेश की 'अयोध्या' में हारी भाजपा

मध्य प्रदेश की 'अयोध्या' में हारी भाजपा

File photo

File photo

भोजशाला आंदोलन की वजह से मध्य प्रदेश के 'अयोध्या' के रूप में पहचान बनाने वाले धार शहर में भाजपा को करारा झटका लगा है

    भोजशाला आंदोलन की वजह से मध्य प्रदेश के 'अयोध्या' के रूप में पहचान बनाने वाले धार शहर में भाजपा को करारा झटका लगा है. यहां चुनाव में कांग्रेस के पर्वत सिंह चौहान ने भाजपा के अनिल जैन को 144 वोटों से हरा दिया.

    यहां भाजपा ने भोजशाला आंदोलन से जुड़े अशोक कुमार को अपना प्रत्याशी नहीं बनाया था. 2013 विधानसभा चुनाव के दौरान भी अशोक कुमार को पार्टी ने टिकट नहीं दिया था. उस वक्त भी उन्होंने काफी विरोध किया था, लेकिन इस बार भी पार्टी की नजरअंदाजी के चलते उन्होंने बागी होकर चुनाव लड़ा.

    भाजपा ने यहां पूर्व केंद्रीय मंत्री विक्रम वर्मा की जिद के चलते अनिल जैन को उम्मीदवार बनाया था. अनिल जैन ने कांग्रेस उम्मीदवार को कड़ी टक्कर दी, लेकिन महज 144 वोटों से उन्हें हार का सामना करना पड़ा.

    भाजपा के बागी नेता को साढ़े आठ हजार से ज्यादा वोट मिले, जो आखिरकार भाजपा की हार की वजह बने.

    मध्य प्रदेश के नगरीय निकाय और पंचायत चुनाव और उपचुनाव में भाजपा पुराने चुनावों जैसी सफलता दोहराने में नाकाम रही है. कांग्रेस ने दिग्विजय सिंह के गृह क्षेत्र राघौगढ़ के अलावा धार और बड़वानी में भी कांग्रेस को खासी सफलता मिली है. -9 निकायों में BJP, 8 में कांग्रेस और एक निकाय पर निर्दलीय ने जीत हासिल की है.

    Tags: Dhar news

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें