होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /राइट टू रिकॉल में भाजपा को झटका, दो जगह गंवाई कुर्सी

राइट टू रिकॉल में भाजपा को झटका, दो जगह गंवाई कुर्सी

मध्य प्रदेश के नगर पालिका और नगर परिषद के साथ राइट टू रिकॉल के तहत हुए चुनाव में भी भाजपा को करारा झटका लगा है

मध्य प्रदेश के नगर पालिका और नगर परिषद के साथ राइट टू रिकॉल के तहत हुए चुनाव में भी भाजपा को करारा झटका लगा है

मध्य प्रदेश के नगर पालिका और नगर परिषद के साथ राइट टू रिकॉल के तहत हुए चुनाव में भी भाजपा को करारा झटका लगा है

    मध्य प्रदेश के नगर पालिका और नगर परिषद के साथ राइट टू रिकॉल के तहत हुए चुनाव में भी भाजपा को करारा झटका लगा है. तीन जगहों में से दो जगहों पर भाजपा के अध्यक्ष को मतदाताओं ने पद से हटाने का जनमत दिया है.

    वहीं, भिंड में राइट टू रिकॉल के तहत हुए चुनाव में भाजपा को मुंह की खानी पड़ी है. यहां मतदाताओं ने बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष संगीता यादव में समर्थन जताया है.

    देवास में भाजपा को झटका
    देवास जिले के करनावद में वर्तमान भाजपा की नगर परिषद अध्यक्ष कांताबाई पाटीदार को करारा झटका लगा है. खाली कुर्सी और भरी कुर्सी के लिए हुए मतदान में कांताबाई पाटीदार को हार का सामना करना पड़ा है.

    मौजूदा नगर पालिका अध्यक्ष कांताबाई पाटीदार को 2270 वोट मिले. वहीं, 3123 मतदाताओं ने उनके विरोध में यानी खाली कुर्सी को अपना समर्थन दिया.

    राजगढ़ में भी ढहा भाजपा का गढ़
    राजगढ़ के खिलचीपुर में भाजपा समर्थित नगर परिषद अध्यक्ष दीपक नागर को खाली-कुर्सी, भरी-कुर्सी के लिए हुए मतदान में हार झेलनी पड़ी है. यहां खाली कुर्सी के पक्ष में 340 वोट ज्यादा पड़े हैं. इस तरह यहां अध्यक्ष पद खाली हो गया है. अब छह महीनों के भीतर दोबारा चुनाव होंगे.

    यहां पर पिछले दिनों 15 में से भाजपा के पांच सहित 13 पार्षदों ने दीपक नागर के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाकर उसे पारित करवाया था. इसके बाद राइट टू रिकॉल के तहत चुनाव हुए थे.

    बसपा के 'हाथी' से मुरझाया 'कमल'
    भिंड जिले के अकोड़ा नगर परिषद के लिए हुए खाली कुर्सी भरी कुर्सी के चुनाव मे भरी कुर्सी 676 वोट के अंतर से विजय हुई है. यह चुनाव अध्यक्ष संगीता सुदीप यादव के कुर्सी पर बने रहने या हटाने के लिए हुआ था.

    बीएसपी के खाते की इस कुर्सी पर बीजेपी ने कब्जा जमाने के लिए अविश्वास प्रस्ताव लाकर अध्यक्ष संगीता सुदीप यादव की कुर्सी छीनने का प्रयास किया था लेकिन बीजेपी यहां असफल साबित हुई.

    8900 मतदाताओं में से 5254 मतदाताओं ने अपने मत का प्रयोग किया था. आज हुई मतगणना मे 2965 वोट भरी कुर्सी के पक्ष मे निकले जबकि खाली कुर्सी के पक्ष मे महज 2289 वोट ही मिले. इस तरह 676 वोट से भरी कुर्सी के पक्ष में यह चुनाव रहा.

    ये भी पढ़ें,
    -एमपी निकाय चुनाव में बराबरी पर छूटा मुकाबला, 9 में BJP और 9 में कांग्रेस को मिली जीत
    -दिग्विजय के गढ़ में शिवराज की हार, युवराज ने किया फतह
    -मध्य प्रदेश की 'अयोध्या' में हारी भाजपा
    -VIDEO: जूतों की माला पहनाकर हुआ था विरोध, फिर भी चुनाव जीता BJP का ये नेता
    -देवास में भी भाजपा को लगा झटका, राइट टू रिकॉल में हारीं उम्मीदवार
    -भिंड में हाथी की चाल से बिगड़ा भाजपा का खेल, बसपा उम्मीदवार ने बचाई कुर्सी
    -राज्यसभा सांसद की सीट पर कांग्रेस ने दर्ज की जीत

    Tags: Dhar news, Madhya pradesh news

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें