होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /मालवा-निमाड़ में 'गांव बंद' का मामूली असर, जानिए क्या है स्थिति..

मालवा-निमाड़ में 'गांव बंद' का मामूली असर, जानिए क्या है स्थिति..

सब्जियों के भावों मे दो दिन पहले के भावों की अपेक्षा आज गिरावट देखी गई

सब्जियों के भावों मे दो दिन पहले के भावों की अपेक्षा आज गिरावट देखी गई

गावों से आने वाला दूध रोजाना के मुकाबले कम आया लेकिन प्लांट का दूध बाजारों में अधिक आया, जिससे शहर मे दूध की पूर्ति आसा ...अधिक पढ़ें

    मध्य प्रदेश के मालवा निमाड़ क्षेत्र में किसान आंदोलन का प्रभाव बेअसर रहा. धार में दूध सप्लाई पर गांव बंद का मामूली असर देखा गया. यहां सुबह से ही मंडियों मे रोजाना की तरह सब्जियों और फलों की सामान्य आवक रही. मंडी मे भी लोगों की भीड़भाड़ देखी गई. सब्जियों के भावों मे दो दिन पहले के भावों की अपेक्षा आज गिरावट देखी गई, वहीं दूध की सप्लाई पर मामूली असर देखने को मिला.

    गावों से आने वाला दूध रोजाना के मुकाबले कम आया लेकिन प्लांट का दूध बाजारों में अधिक आया, जिससे शहर मे दूध की पूर्ति आसानी से हो गई. वहीं किसान आंदोलन को लेकर जिला और पुलिस प्रशासन दोनों ही सुबह से अलर्ट रहे.

    वहीं देवास जिले में भी किसान आंदोलन के पहले दिन असर सामान्य रहा. चप्पे-चप्पे पर सब्जी मंडी के अलावा कई जगहों पर पुलिस-प्रशासन मुस्तैद हैं. शहरों से गांव की तरफ पुलिस सुरक्षा में दूध के टैंकर भेजे जा रहे हैं. रास्तों पर भी पुलिस का पहरा है. शहर में सभी चौराहों पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया है. वाहनों की चैकिंग करने के बाद ही शहर में प्रवेश दिया जा रहा है.


    बता दें कि मध्य प्रदेश में किसान आंदोलन के पहले दिन फलों, सब्जियों और दूध की सप्लाई बंद करने की ख़बरों के बीच चहल-पहल शुरू हो गई है. इंदौर में पुलिस की सुरक्षा के बीच दूध की सप्लाई शहर में की जा रही है. प्लांट से निकलने वाले सभी वाहनों को पुलिस वाहनों के साथ ही शहर में भेजा जा रहा है.

    गौरतलब है कि मध्य प्रदेश सहित देश के कई राज्यों में किसान बंद आंदोलन आज से शुरू हो गया है. मध्य प्रदेश के मंदसौर गोलीकांड के एक साल पूरे होने पर किसान संगठनों द्वारा गांव बंद का ऐलान हुआ था.

    ये भी पढ़ें-
    -'गांव बंद' आंदोलन का कितना असर, पढ़ें मंदसौर से ये ग्राउंड रिपोर्ट
    -किसान आंदोलन: भारी सुरक्षा के बीच शहरों में हो रही है दूध की सप्लाई

    Tags: Dewas News, Dhar news, Madhya pradesh news

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें