होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /इस छोटे से गांव में कैंसर से एक साल में 10 मौतें, 11 लोग बीमारी की चपेट में

इस छोटे से गांव में कैंसर से एक साल में 10 मौतें, 11 लोग बीमारी की चपेट में

डेहरी का प्राथमिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र.

डेहरी का प्राथमिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र.

धार जिले के ठेठ आदिवासी अंचल में बसे गांव डेहरी की आबादी तो मात्र छह हजार है, लेकिन इस गांव में पिछले एक साल में कैंसर ...अधिक पढ़ें

    मध्‍यप्रदेश के धार जिले के एक छोटे से गांव डेहरी और इसके आसपास के इलाकों में इन दिनों लोग मौत की आहट से दहशत के साये में जीने को मजबूर हैं. इसका कारण यह है कि इस क्षेत्र में मौत के दूसरे नाम कैंसर ने दस्तक दे दी है. यहां कैंसर से दस से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है जबकि करीब दर्जनभर लोग कैंसर से पीड़ि‍त हैं.

    धार जिले के ठेठ आदिवासी अंचल में बसे गांव डेहरी की आबादी तो मात्र छह हजार है, लेकिन इस गांव में पिछले एक साल में कैंसर से दस लोगों की मौत हो चुकी है. इनमें दुर्गा बाई, बाबू खां, गणेश राठौर, खेमा, दामोदर राठौर, रफीक टेलर, शकू चौहान, श्याम महाजन, सुभद्रा राठौर और सुगरा बी को कैंसर ने मौत की नींद सुला दिया, जबकि गाँ‌वं के 11 लोगों- झम्मूबाई, मंजू, शेहनाज, निरूपा, सुनीता, लीलाबाई, मनीषा, पायल, रेशमा, अफरोज और दिलावर को कैंसर ने अपनी चपेट मे ले लिया है. ये लोग इंदौर और गुजरात के अस्पतालों में अपना इलाज करवा रहे हैं.

    वहीं ग्राम डेहरी के आसपास लोंगसेरी, अंबापुरा, कोसदना, बाकी, अंजतार, ब्राम्हण जैसे कई गांवों में भी कैंसर के मरीज पाए गए हैं. इनमें से कुछ की मौत भी हो चुकी है. लोग कैंसर का इलाज करवाते-करवाते अपना सब-कुछ खो चुके हैं. अब ऐसे लोगो के पास न तो रुपए-पैसे बचे हैं और न ही इनके अपने, जिनके लिए इन्होंने सब-कुछ गंवा दिया. कैंसर से पीड़ित लोग अब मदद की गुहार लगा रहे हैं.

    इतना सब कुछ होने के बाद भी स्वास्थ्य विभाग ने इस गांव की कोई सुध नहीं ली, लिहाजा लोगों में स्वास्थ्य विभाग के प्रति आक्रोश देखा जा रहा है. लोगों ने मांग की है कि इस क्षेत्र में शिविर लगाए जाएं और लोगों की जांच की जाए और कैंसर के लक्षण होने पर इलाज भी किया जाए. साथ ही लोगों ने जागरूकता शिविर लगाए जाने की भी मांग की है.

    Tags: Dhar news

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें