लाइव टीवी

धार: मॉब लिंचिंग में मारे गए किसान के परिवार को सरकार देगी दो लाख का मुआवजा

भाषा
Updated: February 6, 2020, 5:24 PM IST

अधिकारी ने बताया कि भीड़ हिंसा में मारा गया पटेल इंदौर से करीब 45 किलोमीटर दूर श्योपुरखेड़ा गांव (Sheopurkheda Village) में खेती-किसानी करता था. उसके परिवार में मां, पत्नी और दो बच्चे हैं.

  • Share this:
इंदौर. मध्य प्रदेश के धार जिले (Dhar District) में बच्चा चोरी की अफवाह (Rumor) पर भीड़ हिंसा में मारे गये 35 वर्षीय किसान के परिवार को राज्य सरकार ने दो लाख रुपये का मुआवजा (Compensation) देने की घोषणा की है. प्रदेश के लोक स्वास्थ्य मंत्री तुलसीराम सिलावट ने यहां बृहस्पतिवार को संवाददाताओं को बताया, "भीड़ हिंसा में मारे गये किसान गणेश पटेल (35) के परिजनों को दो लाख रुपये का मुआवजा दिया जायेगा. इस घटना में घायल लोगों का इलाज राज्य सरकार करा रही है." सिलावट ने बताया कि भीड़ हिंसा के मामले को मुख्यमंत्री कमलनाथ गंभीरता से ले रहे हैं. मामले में विशेष जांच दल (एसआईटी) भी गठित किया जा रहा है.

अधिकारियों ने बताया कि धार जिले के मनावर क्षेत्र में मजदूरों से अपनी पेशगी रकम वसूल करने आये सात किसानों पर एक समूह ने बुधवार को पत्थरों और लाठियों से हमला कर दिया था. इस हमले में इंदौर जिले के किसान गणेश पटेल (35) की मौत हो गयी, जबकि छह अन्य गंभीर रूप से घायल हो गये थे. घटना में हताहत लोगों के खिलाफ अफवाह फैलायी गयी थी कि वे बच्चा चुराने आये हैं.

श्योपुरखेड़ा गांव में खेती-किसानी करता था
उन्होंने बताया कि भीड़ हिंसा में मारा गया पटेल इंदौर से करीब 45 किलोमीटर दूर श्योपुरखेड़ा गांव में खेती-किसानी करता था. उसके परिवार में मां, पत्नी और दो बच्चे हैं. उसके पिता का देहांत हो चुका है. अधिकारियों ने बताया कि पटेल, इंदौर और उज्जैन जिलों के परिचित किसानों को अपने वाहन से धार जिले के मनावर क्षेत्र ले गया था. अधिकारियों के मुताबिक, भीड़ हिंसा में गंभीर रूप से घायल चार किसानों को इंदौर के परमार्थिक क्षेत्र के चोइथराम हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है. प्रदेश के लोक स्वास्थ्य मंत्री तुलसीराम सिलावट ने अस्पताल पहुंचकर डॉक्टरों से उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली.

मरीजों की हालत फिलहाल स्थिर है
इस बीच, चोइथराम हॉस्पिटल के उप निदेशक (चिकित्सा सेवाएं) अमित भट्ट ने बताया, "चारों मरीजों की हालत फिलहाल स्थिर है." भट्ट ने बताया, "चूंकि हमले में चारों मरीजों को सिर पर भी चोट आयी है. इसलिये उन्हें 24 घंटे के लिये गहन चिकित्सा इकाई (आईसीयू) में रखा गया है. उनकी हालत पर नजर रखी जा रही है."

ये भी पढ़ें- शाहीन बाग पर बोले गिरिराज-आंदोलन नहीं, यहां बन रहा है सुसाइड बॉम्बर्स का जत्था

तेजस्वी-जगदानन्द की नई टीम से RJD में भूचाल, यादव-मुस्लिम में बढ़ी नाराजगी!

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए धार से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 6, 2020, 5:24 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर