होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /

पहली बारिश ही नहीं झेल पाया 300 करोड़ में बना डैम, रिसाव शुरू होते ही मचा हड़कंप

पहली बारिश ही नहीं झेल पाया 300 करोड़ में बना डैम, रिसाव शुरू होते ही मचा हड़कंप

Dhar News. डैम में पानी का रिसाव रोकने के लिए युद्ध स्तर पर काम शुरू कर दिया गया है.

Dhar News. डैम में पानी का रिसाव रोकने के लिए युद्ध स्तर पर काम शुरू कर दिया गया है.

ल संसाधन विभाग के एसडीओ एसके सिद्दीकी ने बताया कि डैम में एक मामूली सा लीकेज हुआ. इसमें एक मोटर का पानी लगातार बह रहा है. यह बहुत बड़ा रिसाव नहीं है. उन्होंने कहा इससे मिट्टी के बांध में बहुत नुकसान या फूटने की स्थिति नहीं है. इसलिए इसे हमने बड़े स्तर पर रोकने के लिए काम शुरू कर दिया है. इसमें हम मुरम डालने से लेकर और जो कुछ संभव है उससे पानी का रिसाव रोकने में लगे हैं. इसके लिए बहुत तेजी से काम कर रहे हैं. युद्ध स्तर पर काम किया जा रहा है. बहुत जल्द ही इस पानी को रोकने में सफलता मिल जाएगी. कुछ हद तक हमें पानी को रोकने में सफलता मिल भी गई है.

अधिक पढ़ें ...

धार. धार में जल संसाधन विभाग में भ्रष्टाचार की एक बड़ी पोल खुली है. यहां बिलकुल नये बने डैम में पानी का रिसाव हो रहा है. ये डैम कारम नदी पर बना है. इसके निर्माण पर 300 करोड़ रुपये खर्च हुए थे. जल संसाधन विभाग और डैम निर्माण करने वाले ठेकेदार की लापरवाही सामने आई है. डैम में लीकेज होते ही हड़कंप मच गया. कलेक्टर ने मौके पर पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया. लीकेज रोकने के लिए युद्ध स्तर पर काम शुरू किया गया.

मध्य प्रदेश सहित धार जिले में भी लगातार बारिश हो रही है. बांध में बारिश का पानी अधिक आ जाने के कारण यह लीकेज हुआ है. इस मामले को प्रशासन और जल संसाधन विभाग ने गंभीरता से लेते हुए पानी का लीकेज रोकने के लिए कार्रवाई शुरू कर दी है. वहीं राजस्व विभाग ने बांध के निचले क्षेत्र में बसे हुए 11 गांवों को अलर्ट जारी कर दिया है.

युद्ध स्तर पर काम जारी
इस संबंध में जल संसाधन विभाग के एसडीओ एसके सिद्दीकी ने बताया कि डैम में एक मामूली सा लीकेज हुआ. इसमें एक मोटर का पानी लगातार बह रहा है. यह बहुत बड़ा रिसाव नहीं है. उन्होंने कहा इससे मिट्टी के बांध में बहुत नुकसान या फूटने की स्थिति नहीं है. इसलिए इसे हमने बड़े स्तर पर रोकने के लिए काम शुरू कर दिया है. इसमें हम मुरम डालने से लेकर और जो कुछ संभव है उससे पानी का रिसाव रोकने में लगे हैं. इसके लिए बहुत तेजी से काम कर रहे हैं. युद्ध स्तर पर काम किया जा रहा है. बहुत जल्द ही इस पानी को रोकने में सफलता मिल जाएगी. कुछ हद तक हमें पानी को रोकने में सफलता मिल भी गई है.

ये भी पढ़ें- बारिश ने इंदौर में मचाया हाहाकार : कांग्रेस ने कहा-अब पूरा हो जाएगा कैलाश विजयवर्गीय का सपना
11 गांव में अलर्ट
खबर मिलते ही कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने भी कारम डेम का दौरा किया. उनका कहना है लीकेज रोकने के लिए मरम्मत का काम शुरू कर दिया गया है. जल्द ही लीकेज रोक दिया जाएगा. भोपाल से भी एक्सपर्ट की टीम बुलाई गई है. उन्होंने कहा सुरक्षा की दृष्टि से डैम के निचले इलाकों के 11 गांवों और फलियों में अलर्ट जारी कर दिया गया है.

Tags: Dam crack, Dhar news

अगली ख़बर