होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /Shocking : मां ही बन गई बेटे की कातिल : 30 हजार रुपए में दी दूसरे बेटे को हत्या की सुपारी

Shocking : मां ही बन गई बेटे की कातिल : 30 हजार रुपए में दी दूसरे बेटे को हत्या की सुपारी

पुलिस ने हत्या में शामिल चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

पुलिस ने हत्या में शामिल चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

Brutal murder. धार से एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है. मामले में युवक की हत्या उसकी मां ने ही करवाई थी. पिछले ...अधिक पढ़ें

धार. धार के ग्राम लाबरिया में पिछले दिनों माही डैम में बोरे में मिली लाश के मामले में पुलिस ने चौंकाने वाला खुलासा किया है. इसमें चौंकाने वाली बात ये है कि युवक की हत्या उसकी मां ने ही करवाई है.  आरोपी मां ने अपने दूसरे बेटे को हत्या की सुपारी के लिए 30 हजार रुपए दिए थे. मृतक के भाई ने गांव के ही दो लोगों को सुपारी दी थी. करीब 40 दिनों तक चली जांच के बाद पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है. आरोपियों ने पुलिस की पूछताछ में अपना जुर्म कबूल कर लिया है.

22 अक्टूबर को राजोद थाने में सूचना मिली थी कि लाबरिया माही डैम में गोंदीखेडा में एक व्यक्ति की लाश बोरे के अंदर मिली है. सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था. इधर जांच के दौरान लाश की पहचान एहमद के रहने वाले पप्पू के रूप में की गई. पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी. इस जांच के दौरान पुलिस ने मृतक पप्पू के मोबाइल की आईएमईआई सर्च किया. तो मोबाइल सुरेश नरसिंह देवला के पास होने का पता चला.

40 दिन चली जांच
इसके बाद राजोद पुलिस पीथमपुर के कालीबिल्लौदा पहुंची, यहां सुरेश ने बताया कि एहमद नगर के विक्रम ने 1500 रुपए में मोबाइल दिया है. इसके बाद पुलिस को विक्रम पर शक हुआ. पुलिस ने विक्रम को हिरासत में लेकर पूछताछ की. उसने बताया कि पप्पू की मां गीताबाई पप्पू को मारना चाहती थी. इसके लिए मृतक का भाई पुंजा हमसे आकर मिला था. करीबन 2 महीने पहले विक्रम व सावन से पुंजा मिला था. उसने बताया कि उसका भाई पप्पू रोज शराब पीकर खुद के बच्चे व अपनी मां गीताबाई को परेशान करता है. साथ ही मारपीट कर गाली गलौज करता है. इसी बात से नाराज मां ने अपने ही बेटे को मौत के घाट उतरवा दिया.

ऐसे उतारा था मौत के घाट
कछावा के अनुसार घटना की रात करीब 10 बजे मृतक के भाई पुंजा ने विक्रम को फोन लगाकर कहा कि तु सावन को लेकर घर आ. पप्पू घर पर है मेरी मां उसी के साथ उसी कमरे में सो रही है. मां ने दरवाजा खुला छोड़ा है. तुम दोनों आकर पप्पू का खेल खत्म कर दो. फिर विक्रम और सावन दोनों पप्पू के घर गए.  दरवाजा खुला था पुंजा भी उसके घर से बाहर आ गया था. फिर ये तीनों घर में घुसे पप्पू खाट पर सो रहा था पप्पु की मां भी जागी हुई थी. तीनों ने पप्पू को पकड़कर उसका गला दबाकर मार दिया. राजोद थाना पुलिस ने चारों आरोपियो को गिरफ्तार कर लिया है. अब वह आगे की कार्रवाई में जुटी हुई है.

Tags: Crime in MP, Dhar news, Madhya pradesh news, Madhya Pradesh News Updates

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें