अपना शहर चुनें

States

पोस्टमार्टम के बाद नहीं मिला शव वाहन, कंधे पर लादकर 6 KM ले जाना पड़ा शव

मृतक के परिवार का गांव बजाग से 6 किलोमीटर दूर था, लेकिन न तो पुलिस ने और न अस्पताल प्रबंधन ने शव को गांव तक पहुंचाने की जहमत उठाई.

  • Share this:
मध्य प्रदेश के डिंडौरी जिले के बजाग थाना क्षेत्र में मानवता को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है. यहां शव वाहन नहीं मिलने के कारण परिजनों ने शव को कंधे पर रखकर ढ़ोया. परिजनों को शव को कंधे पर रखकर 6 किलोमीटर पैदल चलना पड़ा. परिजनों के बार-बार मदद मांगने के बावजूद भी न तो अस्पताल प्रबंधन द्वारा न ही पुलिस द्वारा शव वाहन की व्यवस्था कराई गई. इसके बाद मजबूरन आदिवासी परिवार शव को कंधे पर रखकर थाने से घर ले गया.

दरअसल, बजाग थाना क्षेत्र के जंगल में कल देर शाम संदिग्ध परिस्थितियों में बुजुर्ग बैगा आदिवासी का शव मिला था, सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची थी और शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था. पुलिस ने आज पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों के हवाले कर दिया.

मृतक के परिवार का गांव बजाग से 6 किलोमीटर दूर था, लेकिन न तो पुलिस ने और न अस्पताल प्रबंधन ने शव को गांव तक पहुंचाने की जहमत उठाई. मृतक के परिजन शव को गांव तक पहुचाने के लिए पुलिस और अस्पताल प्रबंधन के सामने गिड़गिड़ाते रहे. लेकिन किसी ने कोई मदद नहीं की.



ये भी पढ़ें- BJP का धिक्कार आंदोलन आज, पूरे प्रदेश में करेंगे कलेक्ट्रेट का घेराव
ये भी पढ़ें-धिक्कार दिवस मनाएं, लेकिन शिवराज सरकार की 15 सालों की निष्क्रियता के लिए: कांग्रेस
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज