होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /

अंधेरे में समझा कोबरा, निकला दुर्लभ प्रजाति का सांप, देखने लगी लोगों की भीड़

अंधेरे में समझा कोबरा, निकला दुर्लभ प्रजाति का सांप, देखने लगी लोगों की भीड़

MP News: मध्य प्रदेश के डिंडौरी में एक बेहद दुर्लभ किस्म का सांप देखने को मिला है.

MP News: मध्य प्रदेश के डिंडौरी में एक बेहद दुर्लभ किस्म का सांप देखने को मिला है.

Dindori News: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh News) के डिंडौरी में एक बेहद दुर्लभ किस्म का सांप मिला है. दरअसल, रात के अंधेरे में लोग इसे कोबरा सांप समझ रहे थे. फिर स्नैक कैचर शिवाय को बुलाया गया. उन्होंने कहा कि यह सांप ग्रीन किलबैक प्रजाति का है जो बिल्कुल भी जहरीला नहीं होता है. इसका वैज्ञानिक नाम ट्री मोरिअस जेमियस है.

अधिक पढ़ें ...

डिंडोरी. मध्य प्रदेश के डिंडोरी जिला मुख्यालय स्थित वार्ड नंबर 15 के एक घर में हरे रंग का दुर्लभ प्रजाति का सांप देखे जाने के बाद लोगों में हड़कंप मच गया. आनन-फानन में स्नैक कैचर शिवाय मरकाम को मौके पर बुलाया गया. उन्होंने कड़ी मशक्कत के बाद सांप को पकड़ा और सुरक्षित स्थान पर छोड़ दिया. स्नैक कैचर और वाइल्ड लाइफ के जानकार शिवाय मरकाम ने बताया कि हरे रंग वाला यह सांप ग्रीन किलबैक प्रजाति का है जो बिल्कुल भी जहरीला नहीं होता है. इसका वैज्ञानिक नाम ट्री मोरिअस जेमियस है.

बताया जाता है कि रात के अंधेरे में इस दुर्लभ सांप को लोग किंग कोबरा का बच्चा समझ बैठे थे. इसके कारण आसपास के घरों के लोग काफी दहशत में थे. जब तक सांप का रेस्क्यू नहीं हो गया तब तक लोगों ने खुद को घर के अंदर कैद कर लिया था.

पहली बार दिखा ऐसा सांप

सर्प विशेषज्ञ शिवाय ने बताया कि हरे रंग वाला यह सांप पहली बार डिंडौरी जिले में देखा गया है जो वाइल्ड़ लाइफ के लिहाज से अच्छी बात है. हरे रंग वाले इस दुर्लभ प्रजाति के सर्प को देखने लोगों का हुजूम लग गया. सर्प विशेषज्ञ ने बाद में इसे सुरक्षित जंगल में छोड़ दिया.

ये भी पढ़ें:  कटीली झाड़ियों में मिली थी नवजात, अस्पताल पहुंचते ही बन गई परी, डॉक्टर्स के चेहरे पर आई मुस्कान

गौरतलब है कि शिवाय मरकाम पूर्व कैबिनेट मंत्री ओमकार मरकाम के सुपुत्र हैं और शिवाय मरकाम पिछले एक साल में सैंकड़ों सांपों का रेस्क्यू कर उनकी जान बचा चुके हैं. अब उन्होंने इस काम को अपना जूनून बना लिया है.

Tags: Mp news, Snake

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर