होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /डिंडौरी: प्रतिबंध के बाद भी खुला खेल, रेत का अवैध उत्खनन जारी

डिंडौरी: प्रतिबंध के बाद भी खुला खेल, रेत का अवैध उत्खनन जारी

लोगों को काफी महंगे दामों में रेत खरीदना पड़ रहा है

लोगों को काफी महंगे दामों में रेत खरीदना पड़ रहा है

हैरत की बात तो यह है कि रेत माफिया भंडारित रेत की रायल्टी शासन द्धारा निर्धारित राशि से 10 गुना अधिक वसूल रहे हैं, जिसक ...अधिक पढ़ें

    मध्य प्रदेश के डिंडौरी जिले में प्रतिबंध के बाद भी रेत का अवैध उत्खनन धड़ल्ले से जारी है. प्रशासन की आंखों में धूल झोंकने के लिये रेत माफ़ियाओं ने नया तरीका खोज निकाला है.

    बताया जा रहा है कि खनिज विभाग के अधिकारियों से मिलीभगत कर रेत माफियाओं ने प्रतिबंध के पहले ही कमको, मोहनिया और दिवारी गांव में रेत भंडारण की अनुमति ले ली थी और भंडारित रेत की रायल्टी के आड़ में बुढनेर नदी से रेत का अवैध उत्खनन किया जा रहा है.

    हैरत की बात तो यह है कि रेत माफिया भंडारित रेत की रायल्टी शासन द्धारा निर्धारित राशि से 10 गुना अधिक वसूल रहे हैं, जिसके कारण लोगों को काफी महंगे दामों में रेत खरीदना पड़ रहा है.

    ये पढ़ें- सरकार पर वीडियो वार: शॉर्ट फिल्मों के जरिए कांग्रेस शुरू करेगी पोल खोल अभियान

    बता दें कि खनिज विभाग ने जिन्हें रेत भंडारण की अनुमति दी है, ये वही रेत माफिया हैं जो एनजीटी और हाईकोर्ट के आदेशों की धज्जियां उड़ाते हुए नदी के अंदर उत्खनन मशीनों से रेत का अवैध उत्खनन करते हुए News18 के कैमरे में कैद हुए थे.

    वहीं जिले में चल रहे रेत के अवैध कारोबार को लेकर कांग्रेस ने जिला प्रशासन को आड़े हाथ लेते हुए प्रदेश सरकार पर निशाना साधा है. मामले में बीजेपी विधायक पंडित सिंह धुर्वे रेत के अवैध उत्खनन की बात स्वीकारते हुए रेत माफियाओं के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का भरोसा जता रहे हैं.
    (डिंडौरी से विजय की रिपोर्ट)

    ये भी पढ़ें- Video: नगर निगम की कार्रवाई के खिलाफ गुस्साई महिला, लगाए हिंदुस्तान मुर्दाबाद के नारे

    Tags: Madhyapradesh news

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें