लाइव टीवी

जल संकट से जूझते ग्रामीणों को ये परिवार 20 साल से मुफ्त बांट रहा है पानी

Vijay tiwari | News18 Madhya Pradesh
Updated: June 25, 2019, 12:30 PM IST
जल संकट से जूझते ग्रामीणों को ये परिवार 20 साल से मुफ्त बांट रहा है पानी
20 वर्षों से मुश्ताक और उनका परिवार ग्रामीणों को मुफ्त में बांट रहा पानी

मेंहदवानी गांव के रहने वाले मुश्ताक खान को स्थानीय लोग पानी वाले भाईजान के नाम से जानते हैं. मुश्ताक और उनका परिवार पिछले 20 वर्षों से न सिर्फ अपने गांव बल्कि आसपास के गांवों के लोगों की प्यास बुझा रहे हैं.

  • Share this:
मध्य प्रदेश में इन दिनों जल संकट को लेकर हाहाकार मचा हुआ है. पानी के लिए लोग मरने और मारने पर उतारू हैं. वहीं आदिवासी बाहुल्य जिले डिंडोरी में एक शख्श ऐसा है जो जल संकट से जूझ रहे ग्रामीणों के घर-घर जाकर प्रतिदिन सैकड़ों लीटर पानी मुफ्त में पहुंचा रहा है.

20 वर्षों से बुझा रहे 'पानी वाले भाईजान' गांव की प्यास

मेंहदवानी गांव के रहने वाले मुश्ताक खान को स्थानीय लोग पानी वाले भाईजान के नाम से जानते हैं. आपको यह जानकर हैरानी होगी कि मुश्ताक और उनका परिवार पिछले 20 वर्षों से न सिर्फ अपने गांव बल्कि आसपास के गांवों के लोगों की प्यास बुझाने का काम कर रहे हैं.

ट्रैक्टर और टैंकर के जरिए घर-घर पहुंचाते हैं पानी

मेंहदवानी इलाके में भीषण जल संकट को देखते हुए मुश्ताक ने अपने खेत पर खुद के पैसों से बोर कराया है. ट्रैक्टर और टैंकर के जरिए घर घर जाकर पानी की किल्लत झेल रहे ग्रामीणों को पीने का शुद्ध पेयजल मुहैया करा रहे हैं.

पानी वाले भाईजान के नाम से मशहूर मुश्ताक की दरियादिली के कारण गांव के लोग उन्हें अपना मसीहा मानते हैं. ग्रामीणों ने बताया कि गांव में जल संकट को लेकर वो नेता और अधिकारियों के चक्कर काटते काटते थक चुके हैं. गर्मी के दिनों में गांव के तमाम जल स्रोत सूख जाने के कारण भीषण जल संकट के हालात बन जाते हैं. ऐसे में उनका ये 'पानी वाला भाईजान' रोजाना 4 से 5 टैंकर शुद्ध पीने का पानी लोगों के घर घर पहुंचाता है.

शादी व दुख के कार्यक्रमों में भी करते हैं मदद
Loading...

इतन ही नहीं गांव में शादी व दुख के कार्यक्रमों में भी पानी से लेकर हर संभव मदद मुश्ताक भाई द्वारा मिलती है. ग्रामीणों ने बताया कि वर्षों से उनके इलाके में जल संकट की विकराल स्थिति बनी हुई है. इस बात की जानकारी मिलने पर मुश्ताक भाई और उनके परिवार ने यह संकल्प लिया था. इसलिए पूरी ईमानदारी से वो इस नेक काम को आगे भी जारी रखना चाहते हैं.

बहरहाल, जवाबदार अधिकारी और नेता इलाके में जल संकट के हालात से पूरी तरह वाकिफ हैं. बावजूद इसके कुछ करने के बजाय हाथ पर हाथ धरे बैठे हैं. वहीं इलाके के तहसीलदार मुश्ताक की दरियादिली की तारीफ करते हुए उन्हें सम्मानित करने की बात कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें:- पुलिसवालों की आंख में ग्रामीणों ने डाली मिर्ची, फिर की पिटाई 

ये भी पढ़ें:- युवक रात में महिला के भेष में फैलाता था दहशत, गिरफ्तार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए डिंडोरी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 25, 2019, 7:59 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...