लाइव टीवी

प्रेस्टीज समूह के संस्थापक डॉ. नेमनाथ जैन को मिला पद्मश्री सम्मान
Indore News in Hindi

Arun Kumar Trivedi | News18 Madhya Pradesh
Updated: January 26, 2020, 1:50 PM IST
प्रेस्टीज समूह के संस्थापक डॉ. नेमनाथ जैन को मिला पद्मश्री सम्मान
पद्म श्री पुरस्‍कार पाने वाले डॉ. नेमनाथ जैन.

डॉ. नेमनाथ जैन (Dr. Nemnath Jain) को यह सम्‍मान देश में कृषि, सोयाबीन एवं शिक्षा के विकास तथा समाज सेवा के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए दिया गया है.

  • Share this:
इंदौर (Indore): प्रेस्टीज औद्योगिक एवं शिक्षण समूह के संस्‍थापक डॉ नेमनाथ जैन (Dr. Nemnath Jain)  को गणतंत्र दिवस (Republic Day) के पूर्व संध्या पर पद्मश्री (Padma Shree) सम्मान से विभूषित किया गया है. उन्‍हें यह सम्‍मान देश में कृषि, सोयाबीन एवं शिक्षा के विकास तथा समाज सेवा के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए दिया गया है. डॉ नेमनाथ जैन की पहचान अब सोया मेन ऑफ़ इंडिया के तौर पर भी होती है.

डॉ. नेमनाथ जैन का परिवार भारत-पाकिस्‍तान के विभाजन के बाद लाहौर से आकर इंदौर में बस गया था. उस समय, नेमनाथ जैन की उम्र 16 वर्ष थी. मध्यप्रदेश के प्रख्यात इंजीनियरिंग कॉलेज एसजीएसआईटीएस से इंजीनियरिंग करने के बाद कुछ समय तक उन्होंने नौकरी की. उसके बाद उन्होंने प्रेस्टीज आद्योगिक समूह की स्थापना की जो आगे चल कर सोयाबीन प्रसंस्करण एवं सोया उत्पादों के निर्माण में देश एवं मध्य भारत की सबसे प्रतिष्ठित कंपनियों में शुमार हो गई.

उन्‍होंने 1994 में उनके द्वारा आधुनिकतम प्रबंध शिक्षा को जन  जन तक पहुंचाने के लिए प्रेस्टीज इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट एंड रिसर्च की स्थापना की, जो वर्तमान में देश की अग्रणी बिज़नेस स्कूलों में शुमार है. मध्य प्रदेश को सोयाबीन के क्षेत्र में वैश्विक पहचान देने के लिए उन्होंने अग्रणी भूमिका निभाई और उन्हीं के प्रयासों के कारण आज मध्य प्रदेश सोया राज्य के नाम से जाना जाता है.

अपने आठ दशकों की यात्रा में कृषि, सोयाबीन, शिक्षा एवं समाज सेवा के क्षेत्र में उनके उल्लेखनीय योगदान के लिए उन्हें  अनेकों राष्‍ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कारों से सम्मानित किया गया है. इन पुरस्‍कारों में लाइफ टाइम  अचीवमेंट अवार्ड 1983, उद्योग पात्र पुरस्कार और उद्योग विभूषण पुरस्कार शामिल है.

यह भी पढ़ें:
मध्‍य प्रदेश के एजुकेशन सिस्‍टम में होगा अहम बदलाव, पलटेगा शिवराज सरकार का यह बड़ा फैसला
महाराष्ट्र: उद्धव सरकार का गरीबों को गिफ्ट, अब बस 10 रुपये में मिलेगी 'शिव भोजन' थालीअदनान सामी को पद्मश्री दिए जाने पर भड़की MNS, कहा- वापस लिया जाए सम्मान
गणतंत्र दिवस पर सीएम कमलनाथ का ऐलान: पहले 15 साल तक दीजिए किराया, फिर पाइए घर का मालिकाना हक!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इंदौर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 26, 2020, 1:50 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर