लाइव टीवी

मध्य प्रदेश के इस ज़िले में धर्म और सामाजिक समरसता के नाम रहा साल का पहला दिन
Sehore News in Hindi

Pradeep Singh Chouhan | News18 Madhya Pradesh
Updated: January 1, 2020, 11:57 PM IST
मध्य प्रदेश के इस ज़िले में धर्म और सामाजिक समरसता के नाम रहा साल का पहला दिन
सीहोर में साल के पहले दिन दरगाह और दुर्गा माता मंदिर के पास लगने वाला पचामा मेला

सीहोर में साल का पहला दिन धर्म के नाम रहा. जहां ग्राम पचामा (Pachama) में हर साल की तरह दरगाह और दुर्गा माता के मंदिर के पास लगने वाले मेले में भारी संख्या में लोग पहुंचे वहीं प्राचीन सिद्ध विनायक स्वयंभू गणेश मंदिर (Ganesh Temple) में आए भक्तों ने तो एक नया रिकॉर्ड ही बना डाला है.

  • Share this:
सीहोर. मध्य प्रदेश के सीहोर (Sehore) में नववर्ष के पहले दिन सांप्रदायिक सद्भाव की अनूठी मिसाल देखने को मिलती है. इसकी वजह यह है कि नगरीय सीमा से लगे ग्राम पचामा के पास एक ही जगह पर दरगाह और दुर्गा माता के मंदिर मौजूद हैं. हर साल 1 जनवरी को यहां मेला भरता है और हिन्दु तथा मुस्लिम एक साथ दोनों स्थानों पर शिद्दत से सिर झुकाते हैं और बिना किसी भेदभाव के सामाजिक समरसता (Social Harmony) का अनूठा मंजर पैदा करते हैं.

मजार के पास मौजूद है मां दुर्गा की प्रतिमा
दरअसल इस स्थल पर हजरत शाह बाबा की मजार बनी हुई है और मजार के ठीक पास में आदिशक्ति मां दुर्गा की प्रतिमा मौजूद है. श्रद्धा से भरे हुए नागरिक यहां आते हैं और बिना किसी भेदभाव के दोनों धार्मिक स्थल पर सिर झुकाते हैं. इस स्थान पर मन्नत लिए प्रदेश भर से श्रद्धालु आते हैं. इस अवसर पर यहां एक विशाल भंडारे का भी आयोजन किया जाता है, जहां हर वर्ग के लोग एक साथ बैठकर बिना किसी भेदभाव के भोजन ग्रहण करते हैं.

धर्म के नाम रहा साल का पहला दिन



सीहोर में नववर्ष 2019 का पहला दिन धर्म के नाम रहा. नव वर्ष के पहले दिन सीहोर नगर के पश्चिमी छोर पर स्थित प्राचीन सिद्ध विनायक गणेश मंदिर में प्रदेश भर से आए भक्तों का सैलाब उमड़ता है. इस साल भी यहां बहुत लंबी-लंबी लाइनें मंदिर में देखने को मिलीं. लोगों ने विधि विधान के साथ भगवान की पूजा अर्चना की.



स्वयंभू गणेश मंदिर ने बनाया रिकॉर्ड
यहां के पुजारी और प्रबंधक पंडित डॉ चारु चंद्रा व्यास ने बताया कि वैसे तो ये प्राचीन गणेश मंदिर विक्रमादित्यकालीन माना जाता है और यहां के भगवान श्री गणेश को स्वयंभू कहा जाता है. पूरे देश में इस प्रकार के 4 स्वयंभू मंदिर हैं, जिनमें सीहोर का यह मंदिर चौथा स्वयंभू मंदिर कहलाता है. प्राचीन सिद्ध विनायक गणेश मंदिर में आज आए भक्तों की संख्या ने एक नया रिकार्ड बनाया है. भक्तों का मानना है कि साल के पहले दिन भगवान गणेश के दर्शन करना किसी सौभाग्य से कम नहीं है.

ये भी पढ़ें -
कमलनाथ सरकार ने अफसरों के हवाले किए प्रदेश के 18 नगरीय निकाय, ये है कारण
EXCLUSIVE: हनीट्रैप गैंग की शिकार लड़की ने बताया कैसे काम करता था ग्रुप, यहां पढ़ें- पूरी कहानी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सीहोर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 1, 2020, 11:57 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading