लाइव टीवी

गुटखा नहीं ये है जहर! MP में कई नामी ब्रांड्स के गुटखों में मिलावट
Bhopal News in Hindi

Manoj Rathore | News18Hindi
Updated: January 22, 2020, 3:33 PM IST
गुटखा नहीं ये है जहर! MP में कई नामी ब्रांड्स के गुटखों में मिलावट
विभाग की टीम ने राजश्री और कमला पसंद जैसे ब्रांड्स के पान मसालों और गुटखों की फैक्ट्री पर छापा मारा था. (प्रतीकात्मक फोटो)

फैक्ट्रियों से लिए गए 12 सैंपल में से 6 में मिली गड़बड़, खाद्य विभाग ने भेजा नोटिस.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 22, 2020, 3:33 PM IST
  • Share this:
भोपाल. मध्यप्रदेश में बिक रहे कई नामी ब्राड्स के गुटखों (Gutkha) में मिलावट मिली है. जिसके चलते यह और भी ज्यादा हानीकारक बताए जा रहे हैं. ईओडब्‍ल्यू के साथ खाद्य विभाग ने छापेमारी (Raid) कर इस बात का खुलासा किया है. विभाग ने अलग-अलग गुटखा फैक्‍ट्रियों से करीब 12 सैंपल लिए जिनमें यह मिलावट मिली है. विभाग के अनुसार इन सैंपल में से 6 मानक पर खरे नहीं उतरे और इनमें वह तत्व मौजूद थे जो किसी के लिए भी जानलेवा साबित हो सकते हैं.

बड़े ब्रैंड्स में मिलावट
विभाग की टीम ने राजश्री और कमला पसंद जैसे ब्रांड्स के पान मसालों और गुटखों की फैक्ट्री पर छापा मारा था. वहां से लिए गए सैंपल में से तीन राजश्री पान मसाले और 3 कमला पसंद के सैंपलों में गड़बड़ मिली है. चूने-कत्‍थे के साथ ही फैक्ट्री में मिली सुपारी भी मानकों पर खरी नहीं पाई गई. साथ ही जब सैंपल स्टेट लैबोरेट्री में जांच के लिए भेजे गए तो इनमें मिलावट का भी खुलासा हुआ. मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी देवेंद्र वर्मा ने बताया कि रिपोर्ट के अनुसार राजश्री और कमला पसंद के सैंपल मानक के अनुरूप नहीं मिले हैं.

रजनीगंधा में भी गड़बड़



वर्मा ने कहा कि इसी तरह से नोएडा में बनने वाले रजनीगंधा पानमसाला में भी मैग्नीशियम कार्बोनेट की मात्रा ज्यादा पाई गई है. वहीं न्यू मार्केट इलाके से लिए गए जर्दे के सैंपल में भी मिलावट र्पा गई है. सभी पर मामला दर्ज कर नोटिस जारी किया गया है. वहीं सैंपल की रिपोर्ट ईओडब्‍ल्यू को भी भेजी गई है. अब ईओडब्‍ल्यू सभी पर कार्रवाई करेगी.



नोटिस भेजे
मामले में खाद्य विभाग ने इस मिलावट के लिए सभी जिम्मेदार लोगों को नोटिस भेजा है और अब उनके बयान दर्ज किए जाएंगे. इसके बाद खाद्य विभाग आगे की कार्रवाई सुनिश्चित करेगा.

ये भी पढ़ेंः 580 महिलाओं की सड़क हादसों में मौत, तो फिर MP में उनके लिए हेलमेट अनिवार्य क्यों नहीं?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 21, 2020, 8:31 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading