अपना शहर चुनें

States

गायों को सड़कों से हटाने के सरकार के दावे की खुली पोल! कमलनाथ के मंत्री ने मानी हार

निराश्रित गोवंश को उचित स्‍थान देने में असफल रही है सरकार- पशुपालन मंत्री लाखन सिंह
निराश्रित गोवंश को उचित स्‍थान देने में असफल रही है सरकार- पशुपालन मंत्री लाखन सिंह

मध्‍य प्रदेश के पशुपालन मंत्री लाखन सिंह यादव (Animal Husbandry Minister Lakhan Singh Yadav) ने माना है कि निराश्रित गोवंश को समुचित स्थान देने के लिए सरकार द्वारा जो समय सीमा तय की गई थी, उसमें हम नाकाम रहे हैं. हालांकि सरकार अब और 3000 गौशालाएं खोलने जा रही है.

  • Share this:
जबलपुर. मध्‍य प्रदेश से निराश्रित गोवंश को सड़कों से हटाने के अपने दावे पर पशुपालन मंत्री लाखन सिंह यादव (Animal Husbandry Minister Lakhan Singh Yadav) ने हार मान ली है. उन्‍होंने कहा कि निराश्रित गोवंश को समुचित स्थान देने के लिए सरकार द्वारा जो समय सीमा तय की गई थी, उसमें हम उन्‍हें (गोवंश) सड़कों से नहीं हटा पाए हैं. इसके अलावा उन्‍होंने कहा कि प्रदेश में निराश्रित घूम रहे 10 लाख गोवंश (10 lakh Cows) को व्यवस्थित और समुचित स्थान देने के लिए अब अतिरिक्त 3 हजार गौशालाओं (3 Thousand Cowsheds) का निर्माण और किया जाएगा. वहीं जबलपुर के दो दिवसीय प्रवास पर पहुंचे मंत्री ने बसपा विधायक रामबाई पर भी चुटकी ली है.

साल 2020 में 3 हजार गौशालाएं खुलेंगी
प्रदेश के पशुपालन एवं मत्स्य मंत्री लाखन सिंह यादव अपने दो दिवसीय दौरे पर जबलपुर आए हुए हैं. इस दौरान वह वेटरनरी कॉलेज और सांची दुग्ध उत्पादन केंद्र के निरीक्षण सहित पशुपालन विभाग की संभाग स्तरीय समीक्षा बैठक भी लेंगे. मीडिया से मुखातिब होते हुए उन्होंने प्रदेश में निराश्रित गोवंश की मौजूदा हालातों पर अपनी नाकामयाबी को स्वीकारा. मंत्री लाखन सिंह के मुताबिक निराश्रित गोवंश को समुचित स्थान देने के लिए जो समय सीमा तय की गई थी, उसमें हम कामयाब नहीं रहे हैं. उनका प्रयास है कि ऐसे गोवंश को समुचित स्थान दिलाने के लिए 3000 अतिरिक्त गौशालाऐं मंजूर की गई हैं. सरकार द्वारा कराए गए सर्वे के मुताबिक प्रदेश में 10 लाख से अधिक निराश्रित गोवंश हैं, जिसको व्यवस्थित करना सरकार की जिम्मेदारी है.

सांची की लोकप्रियता घटी, सरकार करेगी ब्रांडिंग
सांची की गिरती लोकप्रियता पर मंत्री लाखन सिंह ने चिंता जताई. सांची की ब्रांडिंग करने के साथ ही बीते दिनों भोपाल में उजागर हुए रैकेट का उन्होंने हवाल दिया. भोपाल के सांची दुग्ध उत्पादन केंद्र में मिलावटखोरी की संलिप्तता का ज़िक्र करते हुए उन्‍होंने कहा कि इस बात के सामने आने के बाद उनके विभाग की ओर से कड़ी कार्रवाई की गई है. सरकार अब प्रभावी कदम उठाने जा रही है, ताकि सांची ब्रांड की छवि पहले जैसी स्थापित हो सके. प्रदेश के अंदर गोचर भूमि पर भू-माफियाओं द्वारा कब्जा होने की बात की खुद मंत्री ने पुष्टि की. उन्होंने बताया कि प्रदेशभर में करोड़ों की जमीन कब्ज़ेधारियों के हाथों में है. ऐसे लोगों को सरकार खदेड़ेगी और उनके खिलाफ एक्‍शन प्लान बना लिया गया है.



बसपा विधायक पर ली चुटकी
बसपा विधायक रामबाई द्वारा सीएए का समर्थन और फिर माफी मांगने के एपिसोड पर मंत्री लाखन सिंह ने चुटकी ली. विधायक को उति उत्साहित बताते हुए उन्‍होंने कहा कि वे हाउस यानी विधानसभा में भी ऐसा ही एटीटयुड रखती हैं. सीएए को लेकर उनका बयान शायद मीडिया में छाने के लिए दिया गया हो. रामबाई के समर्थन में जब खुद उनकी पार्टी नहीं है तो कांग्रेस कैसे हो सकती है.

 

ये भी पढ़ें-

जबलपुर: केंद्रीय मंत्री का बड़ा ऐलान, बोले-स्वदेशी पर्यटकों के नाम रहेगा 2020

 

पुलिस को मिली बड़ी सफलता, 15 अवैध हथियार समेत 5 बदमाश गिरफ्तार
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज