लाइव टीवी

मां की पुण्यतिथि पर भावुक हुए दिग्विजय के बेटे, शेयर की बचपन की फोटो

News18Hindi
Updated: February 27, 2018, 12:41 PM IST
मां की पुण्यतिथि पर भावुक हुए दिग्विजय के बेटे, शेयर की बचपन की फोटो
Photo- Facebook

आशा सिंह राघौगढ़ को एक परिवार की तरह मानती थीं और हर परिवार से जीवंत संपर्क उन्होंने स्थापित किया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 27, 2018, 12:41 PM IST
  • Share this:
मध्य प्रदेश के राघौगढ़ से कांग्रेस विधायक और कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह के बेटे जयवर्धन सिंह अपनी मां की पुण्यतिथि पर भावुक हो गए. उन्होंने फेसबुक और ट्विटर पर एक फोटो शेयर करते हुए लिखा, 'परछाई तो अंधेरों में साथ छोड़ देती है पर 'मां' आप हमेशा मेरे साथ रहती हो.

जयवर्धन सिंह की मां आशा सिंह का 27 फरवरी 2013 को 58 वर्ष की आयु में निधन हो गया था. आशा सिंह एक मृदुभाषी और सुसंस्कृत महिला थीं. राजनीति और राजशाही का गुमान उन पर जरा भी नहीं था.

जयवर्धन सिंह की मां आशा सिंह को राघौगढ़ की रानी कहा जाता था. गरीबों की सेवा के लिए सदा तत्पर रहने वाली आशा सिंह कहती थी कि गरीबों की सेवा में सच्चा सुख मिलता है औषधि दान से बढ़कर दूसरा दान नहीं होता है.

आशा सिंह राघौगढ़ को एक परिवार की तरह मानती थीं और हर परिवार से जीवंत संपर्क उन्होंने स्थापित किया था.



ऐसा कहा जाता है दिग्विजय सिंह को बड़ा नेता बनाने में आशा सिंह का योगदान रहा. उन्होंने हमेशा दिग्विजय सिंह को ‍घर की जवाबदारियों से दूर रखा ताकि वे अधिक से अधिक राजनीति में सक्रिय रहें.

सबसे युवा विधायक
जयवर्धन सिंह 2013 में ही अपने पिता दिग्विजय सिंह की सीट राघौगढ़ से विधायक चुने गए थे. उन्होंने करीब 59000 वोटों से चुनाव जीता था. वे 14वीं विधानसभा में कांग्रेस से सर्वाधिक वोटों से चुनाव जीतने वाले उम्मीदवार थे. साथ ही वह उस वक्त विधानसभा में सबसे युवा विधायक थे.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गुना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 27, 2018, 12:41 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर