अपना शहर चुनें

States

गुना: स्कूलों से गायब रहने वाले 22 शिक्षकों का कटेगा 1 दिन का वेतन

गुना जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय
गुना जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय

गुना जिले के पगारा, झागर, सूजाखेड़ी, हिनौतिया सहित कई ऐसे गांव हैं, जहां कलेक्टर ने टीम गठित करते हुए छापामार की कार्रवाई करवाई थी. कार्रवाई के दौरान स्कूलों से नदारत मिलने वाले शिक्षकों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए कलेक्टर ने सभी 22 शिक्षकों का एक दिन का वेतन कटवा लिया.

  • Share this:
मध्य प्रदेश के गुना में सरकारी स्कूलों में कार्यरत 22 शिक्षकों के खिलाफ जिला कलेक्टर ने कार्रवाई की है. स्कूल से अक्सर नदारद रहने वाले शिक्षकों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए कलेक्टर भास्कर लाक्षाकार ने सभी 22 शिक्षकों का एक दिन का वेटन काटने के आदेश दिया है. कलेक्टर का कहना है कि स्कूल खुले, टीचर स्कूल पहुंच और बच्चों को पढ़ाएं के आधार पर यह कार्रवाई की गई है.

दरअसल, गुना में ऐसे कई शिक्षक हैं जो छात्रों को शिक्षा के नाम पर नौकरी में भर्ती तो हो गए, लेकिन शालाओं से गायब रहने वाले रिकॉर्ड भी शिक्षकों ने बना दिया है. अक्सर स्कूलों से नदारद रहने वाले ऐसे शिक्षकों पर कलेक्टर ने कार्रवाई की है. कलेक्टर की इस कार्रवाई में कर्मचारी कांग्रेस संगठन के जिलाध्यक्ष प्रमोद रघुवंशी भी लपेटे में आ गए.

गुना जिले के पगारा, झागर, सूजाखेड़ी, हिनौतिया सहित कई ऐसे गांव हैं, जहां कलेक्टर ने टीम गठित करते हुए छापामार की कार्रवाई करवाई थी. कार्रवाई के दौरान स्कूलों से नदारत मिलने वाले शिक्षकों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए कलेक्टर ने सभी 22 शिक्षकों का एक दिन का वेतन कटवा लिया. इस कार्रवाई से अब जिले भर के शिक्षकों में हड़कंप की स्थिति बन गई. कलेक्टर भास्कर लाक्षाकार का मानना है कि इस कार्रवाई से अध्यापकों को कुछ सीख जरूर मिलेगी, जिससे वे बच्चों की पढ़ाई पर ध्यान दे सकेंगे. उन्होंने कहा कि कुछ शिक्षक ऐसे होते हैं, जिन पर अनुशासनात्मक कार्रवाई की जरूरत पड़ती है.



यह भी पढ़ें-  अजब एमपी का गजब जिला: स्कूलों में कहीं छात्र ज्यादा तो कहीं शिक्षक ज्यादा
यह भी पढ़ें-  किसानों की कर्ज़माफ़ी आज से शुरू, कमलनाथ के फोटो लगे फॉर्म भरवाएगी सरकार

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज