MP By-election: बमोरी में चला सिंधिया फैक्टर, बीजेपी के महेन्द्र सिंह सिसोदिया जीते, ये हैं जीत की 3 वजहें

सांकेतिक तस्वीर.
सांकेतिक तस्वीर.

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में विधानसभा (Assembly) की 28 सीटों पर उपचुनाव (By-election) के नतीजे आ गए हैं.

  • Share this:
गुना. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में विधानसभा (Assembly) की 28 सीटों पर उपचुनाव (By-election) के नतीजे आ गए हैं. गुना जिले की बमोरी सीट पर ज्योतिरादित्य सिंधिया फैक्टर काम कर गया है. यहां से बीजेपी के प्रत्याशी महेन्द्र सिंह सिसौदिया को जीत मिली है. महेन्द्र सिंह ने कांग्रेस के प्रत्याशी केएल अग्रवाल को हराया है. ये इलाका ज्योतिरादित्य सिंधिया का प्रभाव वाला क्षेत्र माना जाता है. ऐसे में यहां सिंधिया फैक्टर बीजेपी के पक्ष में काम कर गया. साल 2018 के मुख्य चुनाव में भी इस सीट से महेन्द्र सिंह को ही जीत मिली थी, लेकिन तब वे कांग्रेस की टिकट पर चुनाव लड़े थे.

बमोरी क्षेत्र से 2.06 लाख मतदाता 2018 चुनाव में थे. तब मतदान 79.27 प्रतिशत हुए थे और जीत का अंतर 27920 वोटों का था. यहां परंपरागत प्रतिद्वंद्वी ही मैदान में हैं. भितरघात का डर दोनों ओर से था. इस सीट पर आदिवासी वोट निर्णायक रहते हैं. इस चुनाव में जनता ने अपना रुख साफ नहीं किया था, लेकिन परिणाम ने सबकुछ स्पष्ट कर दिया. आइये जानते हैं जीत की तीन वजहें .....





इसलिए मिली भाजपा को जीत
- भाजपा को लेकर जनता में विश्वास था. उनका मानना था कि सत्ता को प्रतिनिधित्व करेगा विधायक तो क्षेत्र में काम भी होगा.
- सीएम शिवराज और सिंधिया फैक्टर काम किया. शिव-ज्योति एक्सप्रेस नाम दिया गया.
-पंचायत मंत्री थे तो कुछ प्रोजेक्ट सेंक्शन करवाए, लेकिन शुरू नहीं हुआ. फिर भी जनता ने उनपर विश्वास किया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज