लाइव टीवी

पति, जेठ और दोस्‍तों ने तोड़ी सारी मर्यादाएं, मरा समझ कर छोड़ दिया...

News18
Updated: September 5, 2014, 3:49 PM IST
पति, जेठ और दोस्‍तों ने तोड़ी सारी मर्यादाएं, मरा समझ कर छोड़ दिया...
गुना जिले के जमरा गांव में दहेज प्रताड़ना का ऐसा मामला सामने आया है जो रोंगटे खड़े कर देने वाला है। यह समझ से परे है कि कैसे पति, उसके दोस्‍त, परि‍जन एक महिला की सामूहिक हत्‍या करने के साथ उसके अंगों में तेजाब डालने की साजिश को अंजाम दे देते हैं।

गुना जिले के जमरा गांव में दहेज प्रताड़ना का ऐसा मामला सामने आया है जो रोंगटे खड़े कर देने वाला है। यह समझ से परे है कि कैसे पति, उसके दोस्‍त, परि‍जन एक महिला की सामूहिक हत्‍या करने के साथ उसके अंगों में तेजाब डालने की साजिश को अंजाम दे देते हैं।

  • News18
  • Last Updated: September 5, 2014, 3:49 PM IST
  • Share this:
गुना जिले के जमरा गांव में दहेज प्रताड़ना का ऐसा मामला सामने आया है जो रोंगटे खड़े कर देने वाला है। यह समझ से परे है कि कैसे पति, उसके दोस्‍त, परि‍जन एक महिला की सामूहिक हत्‍या करने के साथ उसके अंगों में तेजाब डालने की साजिश को अंजाम दे देते हैं।

इंडिया टुडे डॉट इन की खबर  के अनुसार दहेज नहीं मिलने पर  पति ने पहले तो पत्‍नी को जमकर पीटा फिर दोस्‍तों व घरवालों की मदद से उसके प्राइवेट पार्ट में तेजाब डाल दिया। जबरदस्‍ती केरोसिन पिलाया। इसके बाद जब महिला तड़पने लगी तो पति ने उसे एक कमरे में बंद कर दिया।

रीना ने पुलिस को दिए बयान में बताया, 'मेरे जेठ और पति ने मुझे जमीन पर पटक-पटककर मारा। इसके बाद उन्‍होंने ट्रैक्‍टर की बैटरी से तेजाब निकालकर मेरे प्राइवेट पार्ट पर डाल दिया। इसके बाद मुझे तड़पने के लिए कमरे में बंद कर दिया।'

तेजाब डालने से महिला का प्राइवेट पार्ट, पेट और जांघें बुरी तरह से झुलस गए। पति कल्याण अहिरवार को जब लगा कि पीड़ित मर गई है, तो उसने उसके पिता को फोन पर जानकारी दी। आरोपी ने पिता से कहा कि पीड़ित ने खुदकुशी कर ली है। आनन-फानन में पहुंचे पिता ने बेहोशी की हालत में बेटी को जिला अस्पताल में भर्ती कराया। अस्पताल में पीड़ित ने अपने पिता और डॉक्टरों से खुद के साथ हुई हैवानियत की जानकारी दी। इसके बाद पीड़ित के पिता ने पुलिस के सीनियर अधिकारियों से मुलाकात कर दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है।

आठ साल पहले रीना बाई अहिरवार की शादी कल्याण अहिरवार से हुई थी। शादी के दो साल बाद ही दहेज को लेकर पति और ससुरालवालों की प्रताड़ना से तंग आकर रीना बाई अपनी मां के घर रहने लगी थी। इस बीच 2010 में मामला कोर्ट पहुंचा तो अदालत से आपसी सहमति के बाद मामला सुलझ गया। इसके बाद रीना और कल्‍याण गुना में साथ रहने लगे।

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गुना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 5, 2014, 11:33 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...