MP: पारिवारिक विवाद में ज्वलनशील पदार्थ डालकर महिला ने लगाई आग, 9 लोग झुलसे

 इसी दौरान मंगलवार शाम सात बजे के लगभग दोनों परिवारों में कहासुनी हुई. (सांकेतिक फोटो)
इसी दौरान मंगलवार शाम सात बजे के लगभग दोनों परिवारों में कहासुनी हुई. (सांकेतिक फोटो)

मालवीय ने बताया कि इस आगजनी में महिला के पति जितेंद्र (Husband Jitendra) के परिवार के नौ लोग गंभीर रूप से झुलस गए. इनमें पांच वर्ष का एक बच्चे की हालत नाजुक बनी हुई है.

  • Share this:


गुना. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के गुना जिले के राघोगढ़ थाना (Raghogarh Police Station) क्षेत्र में एक बड़ी खबर सामने आई है. यहां के एक गांव में चल रहे पारिवारिक विवाद के बाद उनमें से किसी ने ज्वलनशील पदार्थ डालकर मंगलवार शाम कथित रूप से घर में आग (Fire) लगा दी, जिसकी चपेट में आने से एक ही परिवार के नौ लोग गंभीर रूप से झुलस गये. इनमें पांच वर्षीय एक बच्चा भी शामिल है.

राघोगढ़ थाना प्रभारी मदन मोहन मालवीय ने बताया कि राघोगढ़ थाना अंतर्गत बिदौरिया गांव निवासी जितेंद्र केवट और जामनेर थाने के अंतर्गत ग्राम मंशाखेड़ी निवासी उसकी पत्नी गोलू केवट के बीच कुछ समय से झगड़ा चल रहा था. उन्होंने कहा कि मंगलवार को गोलू केवट के परिजन उसके पति को समझाने के लिए बिदौरिया गांव आये हुए थे. इसी दौरान मंगलवार शाम सात बजे के लगभग दोनों परिवारों में कहासुनी हुई और अचानक इनमें से किसी ने ज्वलनशील पदार्थ डालकर घर में आग लगा दी.





नौ लोग गंभीर रूप से झुलस गए
मालवीय ने बताया कि इस आगजनी में महिला के पति जितेंद्र के परिवार के नौ लोग गंभीर रूप से झुलस गए. इनमें पांच वर्ष का एक बच्चे की हालत नाजुक बनी हुई है. उन्होंने कहा कि सभी घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है. मालवीय ने बताया कि आग कैसे लगी, ये अभी साफ नहीं हो पाया है. मामले की जांच जारी है और उसके बाद चीजें साफ हो पायेंगी.


बीजेपी प्रदेश कार्यालय के बाहर महिला ने आत्मदाह का प्रयास किया
बता दें कि कुछ देर पहले कुछ इसी तरह की खबर उत्तर प्रदेश में सामने आई है. लखनऊ में बीजेपी प्रदेश कार्यालय के गेट पर मंगलवार को एक महिला ने खुद को आग लगाकर आत्मदाह का प्रयास किया. मामले में महिला को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उसका इलाज चल रहा है. इस बीच मामले में लखनऊ पुलिस ने पूर्व राज्यपाल सुखदेव प्रसाद के बेटे आलोक को हिरासत में लिया है. आलोक को कांग्रेस पार्टी से जुड़ा बताया जा रहा है. पुलिस को मामले में साजिश की आशंका है.


अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज