अपना शहर चुनें

States

दादी और पोती की नृशंस हत्या के बाद शवों को लगाया गया करंट..!

Demo Pic
Demo Pic

वारदात में पहले दादी और पोती दोनों की हत्या की गई, इसके बाद हत्या को हादसे में तब्दील करने के लिए दोनों के शवों को करंट लगाया गया.

  • Share this:
मध्य प्रदेश में गुना जिले के म्याना में दादी और मासूम पोती की हत्या ने पुलिस के होश उड़ा दिए हैं. वारदात में पहले दादी और पोती दोनों की हत्या की गई, इसके बाद हत्या को हादसे में तब्दील करने के लिए दोनों के शवों को करंट लगाया गया.

आपको बता दें कि परिजनों द्वारा पुलिस को सूचना दी गई थी कि घर के अंदर करंट लगने से दो लोगों की मौत हो गई है. वहीं घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने जब मामले की जांच की तो कुछ और ही माजरा नजर आया.

पुलिस ने बताया कि 52 वर्षीय महिला लताबाई और उसकी 1 साल की पोती का शव खून से लथपथ घर के आंगन में पड़ा मिला था. पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए अस्पताल भेज दिया है, लेकिन वारदात की छानबीन करते हुए पुलिस को कई अहम सुराग मिले.



घर के आंगन में जगह-जगह फैले खून से साफ स्पष्ट हो गया था कि ये हादसा नहीं बल्कि हत्या है. वहीं पोस्टमार्टम में लतादेवी भदौरिया (मृतक) के सिर में 6-7 जगह गंभीर चोट के निशान मिले हैं, जहां से खून का रिसाव भी हो रहा था. वहीं बच्ची के गले को भी धारदार हथियार से रेता गया था, जिसके बाद दोनों शवों को करंट लगाया गया.
घटना जांच में जुटी म्याना पुलिस ने बताया कि मृतिका लताबाई किसान सुशील सिंह भदौरिया की पत्नी हैं और मृत बच्ची के पिता एक ट्रक ड्रायवर हैं, जो घटनाक्रम के दौरान इंदौर में थे. बेहद चौकाने और दिल दहलाने वाली इस वारदात में परिवार के ही व्यक्तियों की तरफ शक की सुई घूम रही है. फिलहाल, ये साफ नहीं हो पाया है कि आखिरकार ये हत्या का कारण क्या था?

ये भी पढ़ें:- ऑपरेशन खुशहाल नौनिहाल: प्रशासन ने 500 बच्चों को छुड़वाया 

ये भी पढ़ें:- सुनील जोशी हत्याकांड की फाइल फिर खुलेगी- पीसी शर्मा
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज