Gwalior News: जिसे कहती थी भाई, उसी ने लूटी अस्मत, जानिए कैसे तार-तार हुआ भरोसे का रिश्ता

मध्य प्रदेश के ग्वालियर जिले में कोरोना काल में भी दुष्कर्म जैसे अपराध हो रहे हैं.

मध्य प्रदेश के ग्वालियर जिले में कोरोना काल में भी दुष्कर्म जैसे अपराध हो रहे हैं.

कोरोना में रेप: मध्य प्रदेश के ग्वालियर जिले में मकान मालिक के लड़के द्वारा किराएदार की नाबालिग बेटी के साथ रेप करने का मामला सामने आया है. यही नहीं, उसके दोस्त ने भी रेप करने की कोशिश की. जबकि लड़की दोनों को भाई कहकर बुलाती थी.

  • Last Updated: May 23, 2021, 10:23 AM IST
  • Share this:

ग्वालियर. ग्वालियर (Gwalior) में कोरोना काल के बीच भरोसे के रिश्ते को तार-तार करने वाली घटना सामने आई है. हजीरा इलाके में एक युवक ने घर में रहने वाले किराएदार की नाबालिग बेटी को हवस का शिकार बना डाला. पीड़िता आरोपी को अपना भाई कहती थी.

जानकारी के मुताबिक, घटना गुरुवार रात की है. आरोपी ने नाबालिग छात्रा को अपने दोस्त की मदद से कमरे में बुलाकर बंधक बना लिया. इसके बाद उसके साथ दुष्कर्म किया. आरोपी के दोस्त ने भी नाबालिग से दुष्कर्म की कोशिश की, लेकिन उसी दौरान नाबालिग लड़की उनके चंगुल से भाग निकली. लड़की ने परिजनों के साथ हजीरा थाना में FIR दर्ज कराई, पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

कमरे से बाहर निकलते ही उठाकर ले गए

गौरतलब है कि ग्वालियर के चार शहर का नाका इलाके में एक परिवार किराए से रहता है. किराएदार की बेटी 17 साल की नाबालिग 12वीं की छात्रा है. गुरुवार रात को जब  छात्रा कमरे से बाहर निकली उसी दौरान मकान मालिक का बेटा नीलू अपने दोस्त सत्यम के साथ पहुंचा. दोनों छात्रा को उठाकर अपने कमरे में ले गए.
जान से मारने की धमकी देकर किया दुष्कर्म

नीलू ने लड़की को जान से मारने की धमकी दी और उसके साथ रेप की कोशिश की. छात्रा ने विरोध किया, तो सत्यम ने उसके हाथ पकड़े और नीलू ने उसके साथ रेप किया. नीलू के बाद उसके दोस्त सत्यम ने छात्रा के साथ रेप करना चाहा, लेकिन इसी दौरान  मकान में रहने वाले दूसरे किराएदार जाग गए. छात्रा आरोपियों के चंगुल से भागकर अपने कमरे में पहुंची और परिवार को अपने साथ हुई घटना बताई. परिजन छात्रा को लेकर हजीरा थाने पहुंचे और मामले की शिकायत की. पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया.

मैं दोनों आरोपियों की भैया कहती थी- पीड़िता



पीड़िता ने पुलिस को बताया कि वह मकान मालिक के बेटे नीलू को अपना भाई मानती थी और सत्यम को भी भैया कहती थी. लेकिन रात में दोनों ने उसे बंधक बनाकर धमकाया. वो दोनों के सामने रोई-गिड़गिड़ाई लेकिन उस पर तरस नहीं आया.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज