Home /News /madhya-pradesh /

CM शिवराज के हमशक्ल हैं ग्वालियर के महेश शर्मा, जो देखता है, बस ठिठक ही जाता है...

CM शिवराज के हमशक्ल हैं ग्वालियर के महेश शर्मा, जो देखता है, बस ठिठक ही जाता है...

ग्वालियर के महेश शर्मा सीएम शिवराज सिंह के हमशक्ल हैं. लोग उन्हें देखकर एक बार गफलत में पड़ जाते हैं.

ग्वालियर के महेश शर्मा सीएम शिवराज सिंह के हमशक्ल हैं. लोग उन्हें देखकर एक बार गफलत में पड़ जाते हैं.

Gwalior News: सीएम शिवराज (CM Shivraj Singh Chauhan) को तो आप सभी जानते हैं, लेकिन ग्वालियर के 'सीएम साहब' के बारे में भी आज जान लीजिए. ग्वालियर के 'सीएम साहब' जहां भी जाते हैं लोग एक बारगी ठिठक जाते हैं. उन्हें लगता है सीएम शिवराज आ गए हैं. माजरा समझते ही वो खिलखिला उठते हैं और फिर 'सीएम साहब' के साथ सेल्फी लेने की उनमें होड़ लग जाती है. कुछ लोग शिवराज सरकार से पूछे जाने वाले सवाल ग्वालियर के 'सीएम साहब' से पूछने लगते हैं.

अधिक पढ़ें ...

ग्वालियर. एमपी के सीएम शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan ) की लोकप्रियता से तो सब वाकिफ हैं. लेकिन ग्वालियर के ‘सीएम साहब’ भी अच्छे खासे पॉपुलर हैं. वो जहां से भी गुजरते हैं उनके साथ सेल्फी लेने की होड़ मच जाती है. जो सवाल सीएम शिवराज से पूछने का मन होता है वो सवाल इन सीएम महोदय से पूछे जाने लगते हैं.

MP के सीएम शिवराज को तो आप सभी जानते हैं, लेकिन ग्वालियर के ‘सीएम साहब’ के बारे में भी आज जान लीजिए. ग्वालियर के ‘सीएम साहब’ जहां भी जाते हैं लोग एक बारगी ठिठक जाते हैं. उन्हें लगता है सीएम शिवराज आ गए हैं. माजरा समझते ही वो खिलखिला उठते हैं और फिर ‘सीएम साहब’ के साथ सेल्फी लेने की उनमें होड़ लग जाती है. कुछ लोग शिवराज सरकार से पूछे जाने वाले सवाल ग्वालियर के ‘सीएम साहब’ से पूछने लगते हैं.

सीएम शिवराज सिंह चौहान के हमशक्ल
सोमवार को ‘सीएम साहब’ अचानक ग्वालियर में सड़क परिवहन निगम के दफ्तर में पहुंच गए. लोग उन्हें देखकर पहले तो मुस्कुराते हैं फिर अभिवादन करते हैं. दफ्तर में आने वाले अन्य लोग भी ‘सीएम साहब’ को देखकर चौंक गए, कि आखिरकार सीएम शिवराज सिंह चौहान बिना सुरक्षा व्यवस्था के कैसे पहुंच गए. लेकिन ये MP के नहीं ग्वालियर के ‘सीएम साहब’ हैं. जी हां ग्वालियर में इनको सीएम साहब ही कहा जाता है. खासियत ये है कि ये सीएम शिवराज सिंह चौहान के हमशक्ल हैं.

ये भी पढ़ें- MP में फिलहाल लागू नहीं होगा पुलिस कमिश्नर सिस्टम, गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने किया इंकार

जो देखता है एक बार ठिठक जाता है
दरअसल ये ‘सीएम साहब’ ग्वालियर शहर के रहने वाले महेश शर्मा हैं. महेश शर्मा cm शिवराज की तरह दिखते हैं. जहां जाते हैं लोग इन्हें देखकर एक पल के लिए ठिठक जाते हैं कि मामा शिवराज आ गए. लोग इन्हें सीएम साहब कहकर ही बुलाते हैं. इनकी लोकप्रियता का आलम ये है कि जहां जाते हैं लोग घेर लेते हैं कोई फ़ोटो खिंचवाता है तो कोई सेल्फी के लिर रोक लेता है. महेश शर्मा बताते हैं कई लोग शिवराज सरकार से पूछे जाने वाले सवाल उनसे पूछ लेते हैं.

ये है परिचय
64 साल के महेश शर्मा मूलतः भिंड जिले के गोहद तहसील के झीखरी गांव के रहने वाले हैं. सन 1975 से 1980 तक उन्होंने भिंड में पत्रकारिता की. मध्यप्रदेश राज्य परिवहन निगम में महेश 1980 से 1996 तक अविभाजित मध्यप्रदेश के छत्तीसगढ़ इलाके में कंडक्टर रहे. साल 1996 में ग्वालियर से उनका तबादला हुआ और 2006 में उन्होंने ने VRS ले लिया. 2005 में शिवराज MP के सीएम बने उसके बाद से महेश की तुलना लोग शिवराज से करने लगे. धीरे धीरे वो मशहूर हो गए, अब लोग उनको सीएम साहब ही कहकर बुलाते हैं.

सीएम शिवराज से मिलने की ख्वाहिश
महेश शर्मा अभी तक सीएम साहब शिवराज सिंह चौहान से नहीं मिले हैं. वो कहते हैं शिवराज की लोकप्रियता के कारण ही आज उन्हें जनता का प्यार मिलता है.

Tags: Gwalior news, Madhya pradesh news, Shivraj singh chauhan

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर