Home /News /madhya-pradesh /

जूनियर हॉकी वर्ल्ड कप खेलेगा MP का अंकित पाल, 15000 कमाने के बाद भी नहीं टूटने दिया सपना

जूनियर हॉकी वर्ल्ड कप खेलेगा MP का अंकित पाल, 15000 कमाने के बाद भी नहीं टूटने दिया सपना

ग्वालियर के अंकित पाल का चयन जूनियर हॉकी वर्ल्ड कप टीम में हुआ है.

ग्वालियर के अंकित पाल का चयन जूनियर हॉकी वर्ल्ड कप टीम में हुआ है.

Ankit Pal in Junior Hockey World Cup: ग्वालियर खुशी से झूम रहा है. यहां के बेटे अंकित पाल का सिलेक्शन हॉकी जूनियर वर्ल्ड कप टीम में हुआ है. खेलप्रेमियों से लेकर पड़ोसियों को उम्मीद है कि उनका लाडला वर्ल्ड कप में कमाल करेगा और सीनियर टीम में भी जगह बनाएगा. अंकित को हॉकी खिलाड़ी बनाने के लिए उनके पिता संतोष और मां सीमा ने खुद को काम में झोंक दिया. उनके पिता हलवाई हैं और वे महज 15 हजार महीना ही कमाते हैं. लेकिन, उन्होंने अपने और बेटे के सपने को टूटने नहीं दिया.

अधिक पढ़ें ...

ग्वालियर. इंसान में कुछ कर गुजरने का जज्बा हो तो संसाधन की कमी या विपरीत हालात उसके लिए बाधा नहीं बन सकते. मेहनत और लगन के दम पर इंसान हर कामयाबी को हासिल कर सकता है. ऐसा ही कमाल कर दिखाया है ग्वालियर के हॉकी खिलाड़ी अंकित पाल ने. गरीब परिवार में पले-बढ़े अंकित का वर्ल्डकप में खेलने वाली भारतीय जूनियर हॉकी टीम में चयन हुआ है. अंकित के माता पिता ने स्कूल का मुंह तक नहीं देखा, लेकिन दिन रात मेहनत मजदूरी कर बेटे को भारतीय टीम में पहुंचा दिया.

गौरतलब है कि अंकित के पिता सन्तोष पाल हलवाई का काम करते हैं. महज 15 हजार रुपये महीना कमाने वाले सन्तोष के 3 बच्चे हैं. सबसे छोटा बेटा अंकित बचपन से ही हॉकी के प्रति समर्पित था. साल 2011 में अंकित की मां सीमा पाल ने अभावग्रस्त होने बावजूद अपने बेटे को ग्वालियर की दर्पण हॉकी अकादमी में भेजा. अंकित के पास हॉकी खरीदने तक के पैसे नहीं थे, तब दर्पण के कोच और साथी खिलाड़ियों ने अंकित के लिए हॉकी का इंतजाम किया था.

मात-पिता ने की जी-तोड़ मेहनत

यहां अंकित ने जबरदस्त मेहनत की और साल 2017 में भोपाल की राज्य पुरुष हॉकी अकादमी में सिलेक्ट हो गया. तब से वो भोपाल में रहकर तैयारी कर रहा था. पिता ने अंकित के सपनों को पूरा करने के लिए दिन-रात काम किया, तो तो मां सीमा ने भी बेटे को इस मुकाम तक पहुंचाने के लिए खुद को कर्म की आग में झोंक दिया. बता दें, उड़ीसा के भुवनेश्वर में 24 नवंबर से जूनियर हॉकी वर्ल्ड कप शुरू होगा. भारतीय टीम में मध्य प्रदेश के विवेक सागर के साथ ही ग्वालियर के अंकित पाल का भी चयन हुआ है.  जूनियर हॉकी वर्ल्ड कप में भारत के साथ-साथ अर्जेंटीना, जर्मनी, कनाडा, साउथ अफ्रीका, इजिप्ट, पाकिस्तान, कोरिया, मलेशिया, पोलैंड, फ्रांस, चिली, स्पेन, यूएसए, की टीमें भाग लेंगी.

अंकित के जुनून की लोग कर रहे तारीफ

ग्वालियर दर्पण हॉकी फीडर के कोच अविनाश ने बताया कि 10 साल पहले अंकित ने हॉकी सीखना शुरू किया था. उसके परिवार के पास हॉकी खरीदने तक का अभाव रहता था. लिहाजा, अंकित दोस्तों और क्लब की हॉकी से प्रैक्टिस करता था. बेहतर खेल के चलते 2017 में अंकित भोपाल की राज्य पुरुष हॉकी अकादमी में चुना गया. अंकित का भारतीय टीम में चयन होनु से जिले के खेल प्रेमियों में खुशी की लहर है. अंकित के भारतीय टीम में चुने जाने पर उनके घर परिवार में बधाइयों का तांता लगा है. सभी को उम्मीद है कि अंकित बेहतरीन खेल के साथ ही भारतीय टीम को मेडल दिलाने में अहम रोल निभाएगा. कोच अविनाश भटनागर का कहना है कि अंकित में खेल के प्रति जुनून है जो उसे अंतरराष्ट्रीय स्तर का खिलाड़ी बनने में मदद करेगा. पड़ौस में रहने वाली  लता सिंह कहती हैं कि अंकित नए  खिलाड़ियों के लिए मिसाल बन गया है.

बहन पूनम भी MP की टीम में खेलती है

अंकित की बहन पूनम पाल भी हॉकी की बेहतरीन खिलाड़ी हैं. पूनम मध्य प्रदेश की जूनियर हॉकी टीम में खेल रही हैं. पूनम ने अक्टूबर महीने में झारखंड में आयोजित हुई नेशनल जूनियर हॉकी स्पर्धा में भाग लिया था. पूनम भी अपने भाई के नक्शे कदम पर चलकर भारतीय महिला हॉकी टीम में खेलने की तैयारी कर रही है. पूनम का कहना है कि भाई  अंकित ने भारतीय जूनियर हॉकी टीम में चयनित होकर ये साबित कर दिया है कि प्रतिभा के लिए संसाधन की कमी कामयाबी का आड़े नही आती. सबकी यही दुआ है कि अब अंकित बेहतर खेल दिखाए ताकि भारतीय टीम हॉकी वर्ल्डकप की चैंपियन बन जाए.

Tags: Gwalior news, Mp news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर