होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /ग्वालियर से बीजेपी का MP मिशन 2023 शुरू : 2018 में इसी इलाके ने छीनी थी सत्ता

ग्वालियर से बीजेपी का MP मिशन 2023 शुरू : 2018 में इसी इलाके ने छीनी थी सत्ता

Gwalior में बैठक लेने राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री शिवप्रकाश, बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष VD शर्मा, प्रदेश संगठन महामंत्री हितानंद शर्मा, प्रदेश सह प्रभारी और उत्तर प्रदेश के इटावा सांसद डॉ रामशंकर कठेरिया बैठक लेने पहुंचे हैं

Gwalior में बैठक लेने राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री शिवप्रकाश, बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष VD शर्मा, प्रदेश संगठन महामंत्री हितानंद शर्मा, प्रदेश सह प्रभारी और उत्तर प्रदेश के इटावा सांसद डॉ रामशंकर कठेरिया बैठक लेने पहुंचे हैं

2023 के विधानसभा चुनाव को ध्यान में रखकर ग्वालियर- चंबल अंचल बेहद खास है. इस इलाके में कुल 34 विधानसभा सीट हैं. 2018 के ...अधिक पढ़ें

ग्वालियर. गुजरात में ऐतिहासिक कामयाबी हासिल करने के बाद भारतीय जनता पार्टी का फोकस अब मध्य प्रदेश पर है. अगले साल 2023 में यहां होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए वो इलेक्शन मोड पर आ गई है. इसकी शुरुआत हो रही है, सत्ता की चाभी कहे जाने वाले ग्वालियर चंबल अंचल से. ये वही इलाका है जहां BJP को 2018 में करारी शिकस्त मिली थी और पार्टी 15 साल बाद सत्ता से बाहर हो गयी थी. इसलिए इस बार बीजेपी कोई खतरा मोल नहीं लेना चाहती.

2023 में BJP पूरी सतर्कता से चुनाव लड़ने की कवायद में जुट गई है. पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष VD शर्मा और सीएम शिवराज ने 2023 के लिए ग्वालियर चंबल में BJP की जमीन मजबूत करने के लिए मोर्चा संभाल लिया है. शर्मा शुक्रवार को ग्वालियर पहुंचे जहां उन्होंने संगठन की बैठक लेकर 2023 के लिए मंथन किया.

मिशन 2023 के लिए महामंथन 
MP में BJP का मिशन 2023 शुरू हो गया है. इसकी शुरुआत ग्वालियर चंबल अंचल से हो रही है. ग्वालियर में आज बीजेपी की मैराथन बैठक हो रही है. राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री शिवप्रकाश, बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष VD शर्मा, प्रदेश संगठन महामंत्री हितानंद शर्मा, प्रदेश सह प्रभारी और उत्तर प्रदेश के इटावा सांसद डॉ रामशंकर कठेरिया बैठक लेने पहुंचे हैं. ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ,पूर्व मंत्री जयभान सिंह पवैया सहित ग्वालियर चंबल अंचल के कई नेता पदाधिकारी शामिल हुए. VD शर्मा ने कहा 2023 और 2024 की तैयारी के लिए बैठक हो रही है. गुजरात की तरह 2023 में मध्यप्रदेश में भी इतिहास बनेगा. गुजरात के अंदर जो आंधी आई है, वो ककराना से घुसेगी और मध्यप्रदेश के ग्वालियर चंबल से लेकर बैतूल अलीराजपुर तक मध्यप्रदेश में कोने कोने में पहुंचेगी.

ग्वालियर चंबल में शिकस्त से गई थी BJP की सत्ता 
2023 के विधानसभा चुनाव को ध्यान में रखकर ग्वालियर- चंबल अंचल बेहद खास है. इस इलाके में कुल 34 विधानसभा सीट हैं. 2018 के विधानसभा चुनाव में BJP को महज़ 07 सीटें मिली थीं. कांग्रेस ने 26 सीटें जीतकर इतिहास बनाया था. एक सीट BSP के खाते में गई थी. हालांकि 2020 में सिंधिया ने दलबदल कर कांग्रेस छोड़ BJP का दामन थामा तो MP में कांग्रेस की सरकार गिर गई थी. 2020 में विधानसभा उप चुनाव हुए तो BJP ने 16 में से 9 सीटें जीत ली थीं. उसके बाद BJP की सीटों का आंकड़ा यहां 7 से बढ़कर 16 हो गया तो कांग्रेस 26 से घटकर 17 सीटों पर आ गई. इसी साल भिंड के BSP विधायक संजीव सिंह ने BJP का दामन थाम लिया. इसलिए अब यहां BJP- CONG की सीटें बराबर हो गई हैं.

बाजी जीतने का संभव प्रयास
VD शर्मा ने कहा पिछले चुनाव में ग्वालियर चंबल में हम कुछ सीटों से पिछड़ गए थे, इसलिए प्रदेश में हमारी सरकार नहीं बन पाई थी. अब ग्वालियर-चंबल अंचल इतिहास बनाएगा. ग्वालियर चंबल संभाग की जनता भाजपा को ऐतिहासिक समर्थन देकर सरकार बनवाएगी.

Tags: Gwalior news, Madhya pradesh latest news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें