Home /News /madhya-pradesh /

सालभर से सरकारी दफ्तरों के चक्कर काट रही है NRI बहू, पति को नहीं ले जा पा रही साथ

सालभर से सरकारी दफ्तरों के चक्कर काट रही है NRI बहू, पति को नहीं ले जा पा रही साथ

GWALIOR NEWS. अनुप्रीत कौर एक में तीसरी बार कनाडा से ग्वालियर आ चुकी हैं लेकिन अब तक मैरिज सर्टिफिकेट नहीं मिल पाया है.

GWALIOR NEWS. अनुप्रीत कौर एक में तीसरी बार कनाडा से ग्वालियर आ चुकी हैं लेकिन अब तक मैरिज सर्टिफिकेट नहीं मिल पाया है.

Gwalior ki khabar. कनाडा की NRI बेटी और भिंड के बेटे के बीच सोशल मीडिया के जरिए प्यार हुआ और फिर शादी हो गयी. लेकिन शादी के बाद भी पति पत्नी साथ नहीं रह पा रहे. वजह ये है कि ग्वालियर प्रशासन अभी तक उनका मैरिज सर्टिफिकेट नहीं बना पाया है. अब कनाडा में रहने वाली बहू बार बार इंडिया के चक्कर लगा रही है.

अधिक पढ़ें ...

Kग्वालियर. कनाडा (Canada) में रहने वाली अनुप्रीत कौर परेशान हैं. वो ग्वालियर (Gwalior) में सरकारी दफ्तरों के चक्कर लगा रही हैं. उनकी शादी गोहद के एक युवक से हुई है लेकिन शादी के सालभर बाद भी वो पति को अपने साथ कनाडा नहीं ले जा पा रहीं. ग्वालियर प्रशासन उनका मैरिज सर्टिफिकेट (Marriage Certificate) नहीं बना रहा. NRI बहू का कहना है उन्होंने सारे सर्टिफिकेट दे दिये हैं. लेकिन प्रशासन कह रहा है कागजात पूरे नहीं हैं.

ग्वालियर में प्रशासनिक लापरवाही की किस हद तक है, इसकी गवाह कनाडा में रहने वाली NRI अनुप्रित कौर है. 40 साल की NRI अनुप्रित ने ग्वालियर के गुरूद्वारा में गोहद निवासी 26 साल के नवजोत रंधावा से शादी की थी. अपना मैरिज सर्टिफिकेट बनवाने के लिए अनुप्रीत पिछले एक साल से कलेक्ट्रेट में गुहार लगा रही हैं. इस बीच उनकी बेटी भी हो गयी. अनुप्रीत अब चार महीने की मासूम बेटी और पति के साथ सरकारी दफ्तरों की खाक छान रही हैं. उनका कहना है सारे सर्टिफिकेट होने के बावजूद उनका मैरिज सर्टिफिकेट नहीं बन पाया है. सर्टिफिकेट बनवाने के लिए ये दंपति 7 – 8 लाख रुपये भी खर्च कर चुका है.

सोशल मीडिया के जरिए हुई थी दोस्ती
भिंड जिले के गोहद में रहने वाले नवजोत सिंह रंधावा और कनाडा में रहने वाली NRI अनुप्रीत कौर की सोशल मीडिया के जरिए दोस्ती हुई थी. ये दोस्ती पहले प्यार और फिर शादी के पवित्र बंधन में बदल गई. अनुप्रीत और रंधावा शादी के बाद कनाडा में जिंदगी बसर करना चाहते हैं. लेकिन मैरिज सर्टिफिकेट न बन पाने के कारण पति पत्नी सात समंदर पार रह रहे हैं.

ये भी पढ़ें- CDS बिपिन रावत के साले ने प्रशासन पर लगाए गंभीर आरोप, नरोत्तम मिश्रा बोले- मैं देखूंगा पूरा मामला

नवजोत रूस में शेफ थे
26 साल के नवजोत सिंह रंधावा रूस के एक बड़े होटल में शेफ थे. रूस में रंधावा की मुलाकात  40 साल की कैनेडियन NRI अनुप्रीत कौर से हुई थी. मुलाकात के बाद  सोशल मीडिया पर दोनों की दोस्ती हुई. करीब 20 साल से अनुप्रीत कनाडा में अपनी नानी के साथ रह रही हैं. वो एक निजी कंपनी में  प्रोडक्शन इंजीनियर हैं. अनुप्रीत की पहली शादी असफल रही कुछ समय बाद ही उसका तलाक हो गया था. नवजोत और अनुप्रीत के बीच 14 साल का अंतर है फिर भी दोनों परिवारों ने उनके रिश्ते को रजामंदी दे दी थी.

गुरुद्वारा दाताबंदी छोड़ में हुई थी शादी
ग्वालियर के गुरुद्वारा दाताबंदी छोड़ में 7 नवंबर 2020 को दोनों की रस्मों रिवाज से शादी हुई. गुरुद्वारा से बकायदा दोनों को शादी का  सर्टिफिकेट भी मिल गया. दोनों ने दिसंबर 2020 में ही ग्वालियर के कलेक्ट्रेट में मैरिज सर्टिफिकेट के लिए आवेदन किया.  इस बीच अनुप्रीत ने कनाडा में एक बेटी को भी जन्म दिया.  कनाडा में बेटी के बर्थ सर्टिफिकेट पर भी पिता के नाम पर नवजोत सिंह का नाम दर्ज  है. लेकिन ग्वालियर जिला प्रशासन मैरिज सर्टिफिकेट नहीं बना रहा है.

ये भी पढ़ें- नये साल में आ सकता है MP- PSC 2019-20 का रिजल्ट, सरकार ने हाईकोर्ट में कही ये बात

पति नहीं जा पा रहा कनाडा…
अनुप्रीत का कहना है दिसंबर  2020 में कलेक्ट्रेट में मैरिज सर्टिफिकेट के लिए आवेदन किया था. कलेक्ट्रेट में अलग अलग दस्तावेज़ों की डिमांड की जाती है. पति नवजोत रंधावा अपने सारे दस्तावेज दे चुका है और अनुप्रीत ने  कैनेडियन एम्बेसी से सारे दस्तावेज लाकर जमा कर दिए हैं. अनुप्रीत कौर ने आरोप लगाया है कि वह कैनेडियन एम्बेसी से NOC (अनापत्ति प्रमाणपत्र) लाई है. ग्वालियर कलेक्ट्रेट के ई-मेल पर यह NOC आई है. यहां के बाबू इसके बाद भी मैरिज सर्टिफिकेट देने के लिए तैयार नहीं हैं. बाबू अब अर्जेंटीना की NOC दिखाकर कनाडा से उसी फॉर्मेट में NOC बनवाकर लाने बात कह रहे हैं. अनुप्रीत बार-बार कह रही हैं कि कनाडा के अपने अलग नियम हैं और अर्जेंटीना के अलग. दोनों एक तरह से कैसे काम कर सकते हैं.

प्रशासन ने कहा- जल्द करेंगे कार्रवाई
अनुप्रीत की शिकायत के बाद अब कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह ने कहा NRI दंपति की शिकायत को मैंने संज्ञान में लिया है. कनाडा हाई कमीशन से महिला से संबंधित एनओसी मांगी गई है. एनओसी नहीं आने की वजह से मैरिज रजिस्टर्ड नहीं हो पा रहा. मैं व्यक्तिगत तौर पर कनाडा हाई कमिशन से एनओसी भिजवाने के लिए बात करूंगा. 2 दिन में इनकी परेशानी का निपटारा कर दिया जाएगा.

Tags: Gwalior news, Madhya pradesh latest news, NRI

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर