Assembly Banner 2021

कंप्यूटर बाबा को लेकर कांग्रेस में घमासान, कमलनाथ के मंत्री ने दिग्‍विजय के MLA भाई को दी ये नसीहत

कैबिनेट मंत्री डॉ. गोविद सिंह ने कंप्यूटर बाबा को बताया सच्‍चा प्रतिनिधि

कैबिनेट मंत्री डॉ. गोविद सिंह ने कंप्यूटर बाबा को बताया सच्‍चा प्रतिनिधि

कांग्रेस सरकार में राज्य मंत्री का दर्जा प्राप्त कंप्यूटर बाबा (Computer Baba) को लेकर पार्टी में घमासान मचा हुआ है. पूर्व सीएम दिग्‍विजय सिंह के भाई और विधायक लक्ष्मण सिंह ने उनको फर्जी करार दिया है, तो सरकार के कैबिनेट मंत्री डॉ. गोविद सिंह (Dr. Govid Singh) बाबा की तारीफ कर रहे हैं.

  • Share this:
ग्वालियर. कांग्रेस सरकार में राज्य मंत्री का दर्जा प्राप्त कंप्यूटर बाबा (Computer Baba) को कांग्रेस के विधायक लक्ष्मण सिंह (Laxman Singh) और ओपीएस भदौरिया भले ही फर्जी करार देते हुए हानिकारक बता रहे हैं, लेकिन कमलनाथ सरकार के कैबिनेट मंत्री डॉ. गोविद सिंह (Dr. Govid Singh) कंप्यूटर बाबा की कार्रवाई की तारीफ कर रहे हैं. सिंह ने कहा कि अगर लक्ष्मण सिंह को लगता है कंप्यूटर बाबा गलत हैं, तो सार्वजनिक रूप से कहें अवैध खनन जायज है.

बाबा सरकार के मंत्री हैं जो कर रहे सही है
कंप्यूटर बाबा द्वारा प्रदेश भर में खनन माफियाओं के खिलाफ की जा रही कार्रवाई के बाद अब सरकार के मंत्री और विधायक आमने सामने नजर आ रहे हैं. बुधवार को कांग्रेस विधायक लक्ष्मण सिंह और ओपीएस भदौरिया ने बाबा पर फर्जी कार्रवाई करने का आरोप लगाया था. इन विधायकों के बयान पर जब प्रदेश के सहकारिता मंत्री डॉ. गोविंद सिंह की राय जाननी चाही तो उनका कहना है कि मेरी नजर में कंप्यूटर बाबा बेहतर काम कर रहे हैं जिन लोग को लगता है कि बाबा गलत काम कर रहे हैं, उनके हितों पर चोट हुई है, इसीलिए वह ऐसा बोल रहे हैं. ऐसे लोगों को जनता के बीच जाकर कहना चाहिए कि अवैध खनन पर बाबा कार्रवाई ना करें बल्कि अवैध खनन होते रहना चाहिए.

साथ ही उनका कहना है कि कंप्यूटर बाबा को मध्य प्रदेश सरकार ने मंत्री का दर्जा देते हुए जो जिम्मेदारी सौंपी थी उसे बखूबी निभा रहे हैं. वैसे तो वह साधु-महात्मा की तारीफ नहीं करते हैं लेकिन जो समाज हित के लिए काम करते हैं उनका सदैव सम्मान करते हैं. यही कारण है कि मंत्री होने के नाते वह कंप्यूटर बाबा का बहुत सम्मान करते हैं.
लक्ष्मण ने कहा था कंप्यूटर बाबा को फर्जी


गौरतलब है कि मध्‍य प्रदेश के पूर्व मुख्‍यमंत्री दिग्‍विजय सिंह के भाई और कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक लक्ष्मण सिंह ने मप्र नदी न्यास के अध्यक्ष कंप्यूटर बाबा को फर्जी बताया था. लक्ष्मण ने कहा था कि शिक्षित समाज में फर्जी बाबाओं की कोई जगह नहीं है, जो तपस्या करते हैं, सही मायने में वे संत हैं, उनको दुनिया मानती है. मैं भी मानता हूं, लेकिन कंप्यूटर बाबा जैसे फर्जी बाबाओं को शिक्षित समाज कभी स्वीकार नहीं करेगा. कांग्रेस अगर ऐसे फर्जी बाबाओं को साथ रखेगी तो भविष्य में नुकसान होने की पूरी संभावना है. पहले भी ऐसे फर्जी बाबाओं से कांग्रेस को काफी नुकसान हो चुका है. सिंह ने कहा था कि मैं पांच बार लोकसभा में चुना गया हूं, तीसरी बार विधानसभा में चुना गया. अगर मैं अनर्गल बातें करता तो इतनी बार नहीं चुना जाता. कंप्यूटर बाबा यह कह रहे हैं कि मैं अनर्गल बात कर रहा हूं, तो यह अपमान मेरा नहीं है, मतदाताओं का अपमान है.

बाबा से मेरा कहना है कि वह जनता का अपमान न करें. कांग्रेस की आड़ में कंप्यूटर बाबा अपना खेल खेलना बंद करें तो ज्यादा अच्छा होगा. लक्ष्मण सिंह ने कांग्रेस पार्टी को फर्जी बाबा से दूरियां बनाने की नसीहत देते हुए कहा था कि ऐसे बाबा केवल नुकसान ही कर सकते हैं, इनसे कोई लाभ नहीं होगा.

 

ये भी पढ़ें-

राज्यसभा चुनाव के लिए तैयारियां शुरू, CM कमलनाथ की किस पर होगी 'मेहरबानी'

 

पोर्न मूवी के शौकीन इंजीनियरिंग स्टूडेंट ने 5 साल की मासूम के साथ किया रेप
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज