लाइव टीवी

CM कमलनाथ के मंत्री की मीटिंग में बवाल, कार्यकर्ताओं ने कहा- पार्टी में अब एक दलाल कांग्रेस का गठन कर देना चाहिए

Sushil Koushik | News18 Madhya Pradesh
Updated: September 22, 2019, 9:33 PM IST
CM कमलनाथ के मंत्री की मीटिंग में बवाल, कार्यकर्ताओं ने कहा- पार्टी में अब एक दलाल कांग्रेस का गठन कर देना चाहिए
वन मंत्री उमंग सिंगार की बैठक में कार्यकर्ताओं ने किया हंगामा.

कमलनाथ सरकार (Kamal Nath Government) में अपने काम ना होने से नाराज कार्यकर्ताओं ने ग्‍वालियर जिला कांग्रेस कार्यालय में ना सिर्फ जमकर हंगामा किया बल्कि मंत्री उमंग सिंघार (Minister Umang Singhar) समेत विधायक और एक अन्‍य दूसरे मंत्री लाखन सिंह यादव ( Minister Lakhan Singh Yadav) के साथ धक्‍का-मुक्‍की कर दी.

  • Share this:
ग्‍वालियर. ग्वालियर में कांग्रेस कार्यालय में जिले के प्रभारी और मध्‍य प्रदेश के वन मंत्री उमंग सिंघार (Forest Minister Umang Singhar) की बैठक में जमकर बवाल हुआ. रविवार देर शाम सिंघार जिला कांग्रेस कार्यकर्ताओं (District Congress workers) की बैठक ले रहे थे. बैठक में कार्यकर्ताओं के साथ ही दो विधायक और मंत्री लाखन सिंह भी मौजूद थे. इसी दौरान कमलनाथ सरकार (Kamal Nath Government) में काम न होने से नाराज कुछ कार्यकर्ताओं ने ये तक कह दिया कि पार्टी में अब एक दलाल कांग्रेस का गठन कर देना चाहिए. इसके बाद कुछ कार्यकर्ता विधायक के समर्थक में नारे लगाने लगे, तो वहीं इस पर आपत्ति लेते हुए दूसरे कार्यकर्ता पूर्व सांसाद ज्योतिरादित्य माधवराव सिंधिया (former MP Jyotiraditya Madhavrao Scindia) के पक्ष में नारेबाजी करने लगे. बस यहीं से बवाल शुरु हो गया और यह इतना बड़ा हो गया कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं में धक्का-मुक्की शुरू हो गई. इस दौरान विधायक, मंत्री और प्रभारी मंत्री के साथ भी कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने धक्का-मुक्की की.

पुलिस ने संभाला मोर्चा
इस बवाल के बाद पुलिस सुरक्षा के लिए पहुंची और प्रभारी मंत्री उमंग सिंघार को बैठक से उठाकर कांग्रेस पदाधिकारी के कमरे में पहुंचाया गया. वरिष्ठ पार्षद और नगर निगम के नेता प्रतिपक्ष कृष्णराव दीक्षित का कहना है कि बैठक में कुछ असामाजिक तत्वों ने बवाल किया है, तो वहीं दलाल कांग्रेस की स्थापना जैसे शब्दों के इस्तेमाल करने को लेकर मंत्री लाखन सिंह ने भी नाराजगी जताई.

मंत्री लाखन सिंह ने कहा कि इसकी बातें अध्यक्ष के साथ बंद कमरे में करनी चाहिए थीं और ऐसी घटना बैठक में नहीं होनी चाहिए. जब‍कि इस पूरे बवाल पर प्रभारी मंत्री उमंग सिंघार ने कहा कि कार्यकर्ताओं की भावना है इनके बीच में क्या बोलूं?

ये भी पढ़ें - हनी ट्रैप मामलाः BJP नेता ने मास्टरमाइंड से जान-पहचान पर कहा- मैं किसी श्वेता को नहीं जानता

कांग्रेस महासचिव दीपक बावरिया की शिवराज को नसीहत, बोले- केंद्र सरकार को जगाएं या फिर जल समाधि ले लें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ग्वालियर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 22, 2019, 8:55 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...