MP By Election: सिंधिया को चंबल में घेरेगी कांग्रेस, 16 सीटों पर जीत के लिए पार्टी ने बनाया प्लान
Gwalior News in Hindi

MP By Election: सिंधिया को चंबल में घेरेगी कांग्रेस, 16 सीटों पर जीत के लिए पार्टी ने बनाया प्लान
सभी तरह की चुनावी गतिविधियां इसी मुख्यालय से संचालित होंगी. (फाइल फोटो)

MP By Election: ग्वालियर-चंबल (Gwalior Chambal) इलाके की 16 विधानसभा सीटें बीजेपी और कांग्रेस का भविष्य तय करेंगी. यही कारण है कि दोनों ही सियासी दलों की नजरें इस इलाके पर लगी हैं.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश की 24 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव (Bye Election) में सियासी दलों का सबसे ज्यादा फोकस ग्वालियर-चंबल (Gwalior Chambal) इलाके की 16 सीटों पर है. प्रदेश की 16 विधानसभा सीटें बीजेपी और कांग्रेस के भविष्य को तय करेंगी. यही कारण है कि दोनों ही सियासी दलों की नजरें इस इलाके पर लगी हैं. कांग्रेस (Congress) ने ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) के गढ़ माने जाने वाले ग्वालियर चंबल इलाके को फतह करने के लिए अब ग्वालियर में पार्टी का चुनावी मुख्यालय बनाने का फैसला किया है. ग्वालियर के पार्टी मुख्यालय से इस इलाके की सभी 16 सीटों पर फोकस करना आसान होगा. सभी तरह की चुनावी गतिविधियां इसी मुख्यालय से संचालित होंगी.

मुख्यालय की जिम्मेदारी पार्टी के दिग्गज नेताओं को संभालनी होगी. इसके लिए पार्टी ने कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष रामनिवास रावत, लाखन सिंह यादव, डॉक्टर गोविंद सिंह, अशोक सिंह और फूल सिंह बरैया को जिम्मेदारी सौंपी है. यह सभी नेता ग्वालियर चंबल इलाके में होने वाले जनसंपर्क, प्रचार अभियान समेत प्रचार सामग्री सप्लाई करने की व्यवस्था संभालेंगे. साथ ही किस विधानसभा सीट पर कौन से नेता कब जाएंगे, इसकी रणनीति भी ग्वालियर मुख्यालय में ही बैठकर तय होगी. पूर्व मंत्री और कांग्रेस विधायक लाखन सिंह यादव ने कहा है कि चुनाव के चलते ग्वालियर को पार्टी का हेडक्वार्टर बनाया जा रहा है. पीसीसी की बजाए ग्वालियर में पार्टी मुख्यालय से गतिविधियां संचालित होंगी और दिशा निर्देश जारी होंगे. ग्वालियर हेडक्वार्टर से ही प्रत्याशी चयन की प्रक्रिया को पूरा किया जाएगा.

इंदौर से संचालित करने की सलाह पार्टी को दी है



हालांकि, पूर्व मंत्री डॉक्टर गोविंद सिंह ने अशोकनगर जिले की विधानसभा सीटों को ग्वालियर हेडक्वार्टर से हटाकर भोपाल या इंदौर से संचालित करने की सलाह पार्टी को दी है. इसके तहत पार्टी इंदौर में भी एक मुख्यालय खोलने की तैयारी में है. वहीं, कांग्रेस पार्टी के ग्वालियर को मुख्यालय बनाए जाने पर बीजेपी ने निशाना साधा है. इधर, प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि ग्वालियर में कांग्रेस नेताओं का स्वागत है. लेकिन कांग्रेस चाहे दफ्तर खोले या मुख्यालय बना ले, उपचुनाव में कांग्रेस का सूपड़ा साफ हो जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading