• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • GWALIOR DEFECATE IN OPEN ADMINISTRATION IMPOSED RS 7 70 LAKHS FINE IN 2 GWALIOR VILLAGES

"सरकार चाहे गोली मार दे, पर मैं तो खुले में ही शौच करूंगा"

Sonbhdra: पश्चिम बंगाल जिले के नादिया जिले का रिकॉर्ड तोड़ेगा सोनभद्र

मध्य प्रदेश के ग्वालियर जिले में अब ग्रामीणों को खुले में शौच के लिए जाना महंगा पड़ रहा है. जिला पंचायत ने घर में शौचालय नहीं होने पर 21 लोगों पर 7.70 लाख रुपए का जुर्माना लगाया है. जुर्माना नहीं चुकाने पर कुर्की की कार्रवाई हो सकती है.

  • Share this:
मध्य प्रदेश के ग्वालियर जिले में अब ग्रामीणों को खुले में शौच के लिए जाना महंगा पड़ रहा है. जिला पंचायत ने घर में शौचालय नहीं होने पर 21 लोगों पर 7.70 लाख रुपए का जुर्माना लगाया है. जुर्माना नहीं चुकाने पर कुर्की की कार्रवाई हो सकती है.

जानकारी के अनुसार, जिला पंचायत के परियोजना अधिकारी जयसिंह नरवरिया अमले के साथ घाटीगांव जनपद पंचायत के तहत आने वाले आंतरी गांव के निरीक्षण के लिए पहुंचे थे.

यहां 12 लोग खुले में शौच करते हुए मिले. इन सभी लोगों के घरों में शौचालय नहीं है. इसलिए परिवार के प्रति सदस्य से 250 रुपए एक दिन के हिसाब से महीने भर का जुर्माना लगाया गया. जिला पंचायत की तरफ से ऐसी ही कार्रवाई सुरेहला में भी की जा चुकी है. अब तक प्रशासन इन दो गांवों में 21 लोगों पर 7.70 लाख रुपए का जुर्माना लगा चुका है.

"सरकार चाहे गोली मार दे"

जिला पंचायत के अमले को कार्रवाई के दौरान काफी मुश्किलों का सामना भी करना पड़ा. कई लोग खुले में शौच जाने की बात पर ही अड़ गए थे.

बताते हैं कि आंतरी गांव में आर्थिक रूप से काफी संपन्न होने के बावजूद बादाम सिंह नाम का शख्स अपने घर में शौचालय नहीं बना रहा है. अमले ने उसे खुले में शौच करते हुए पकड़ा तो वह विवाद करने लगा. बादाम सिंह ने कहा, 'सरकार चाहे गोली मार दे, पर मैं तो खुले में ही शौच करूंगा.'

हालांकि, बादाम सिंह को इसकी बड़ी कीमत चुकानी पड़ी है. जिला पंचायत ने परिवार के प्रति सदस्य 250 रुपए रुपए के हिसाब से बादाम सिंह पर 75,000 रुपए जुर्माना लगा दिया.