ग्वालियर: उर्जामंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर चैंबर का निरीक्षण करते समय फिसले, गार्ड्स ने बचाया

मध्य प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर चैंबर का निरीक्षण करते समय गिरते-गिरते बचे.

ग्वालियर में रविवार को निरीक्षण के लिए निकले ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने शहर में बन रहे सीवरेज चैंबर को ठोकर मारी तो ईंटें नीचे आ गिरी. मंत्री ने घटिया क्वालिटी के लिए अफसरों को फटकारा. इस दौरान वह सीवर चैंबर में गिरते-गिरते बचे.

  • Share this:
ग्वालियर. उर्जामंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर आज एक्शन मोड में नजर आए. ग्वालियर में बिजली स्टेशन का जायजा लेने के दौरान मंत्री को परिसर ने शराब की खाली बोतलें मिलींं तो उन्होंने अफसरों को फटकार लगाते हुए दोषी के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए. मंत्री तोमर ने शहर में बन रहे सीवरेज चेंबर को ठोकर मारी तो ईंटे नीचे आ गिरी. मंत्री ने घटिया क्वालिटी के लिए अफसरों को फटकारा लेकिन इस दौरान वह खुद सीवर चैंबर में गिरते-गिरते बचे. उधर, ट्विटर पर शिकायत मिलने पर मंत्री ने सीहोर जिले के एक फीडर प्रभारी को निलंबित कर दिया है.

ठोकर मारकर घटिया निर्माण की खोली पोल

मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर अपने इलाके बहोड़ापुर, शिंदे की छावनी इलाके में चल रहे निर्माण कार्यों का रियलिटी चेक करने निकले. जब मंत्री बहोड़ापुर में बन रहे सीवर चैंबर का जायजा लेने पहुंचे तो उनको निर्माण क्वालिटी बेहद घटिया दिखी. मंत्री के पैर की ठोकर मारी तो चैंबर की दीवार की ईंट नीचे गिर गई. चैंबर से बाहर निकलने के दौरान मंत्री का संतुलन बिगड़ गया और वो चैंबर में गिरने से बाल-बाल बचे. इस वाकये के दौरान मौजूद सुरक्षाकर्मी और कार्यकर्ता ने हाथ थामकर मंत्री को गिरने से बचाया. उन्होंने घटिया निर्माण के लिए अफसरों को संबंधित एजेंसी के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए.

शराब खोरी का अड्डा बना बिजली विभाग का सब स्टेशन

उर्जामंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने रविवार दोपहर सागर ताल स्थित 33 केवी बिजली सब स्टेशन पहुंचे. जब मंत्री ने बिजली सब स्टेशन परिसर का जायजा लिया तो यहां न सिर्फ गंदगी मिली बल्कि शराब की खाली बोतलें भी पड़ी हुई थीं. ऊर्जा मंत्री ने अफसरों को फटकार लगाते हुए मामले में दोषी के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए.  ऊर्जा मंत्री तोमर को ट्विटर के जरिए सीहोर जिले से एक शिकायत मिली. सीहोर जिले के कादराबाद में अफसरों ने 11 केवी विद्युत लाइन को बिजली पोल के अभाव में पेड़ के सहारे बांध रखा था. गांव के जागरूक युवा ने मंत्री को ट्वीट कर शिकायत की. ट्वीटर पर शिकायत मिलने के बाद उर्जा मंत्री प्रद्युम्न ने फीडर प्रभारी देवी प्रसाद तिवारी को फौरन निलंबित कराया, जूनियर इंजीनियर दीपक यादव को कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.