Home /News /madhya-pradesh /

former minister imarti devi courted controversy in gwalior shocking video came out read the full detail nodps

इमरती देवी की बदज़ुबानी; नारेबाजी कर रहे कार्यकर्ता को कहे अपशब्द, तहसीलदार को भी लगाई फटकार

पिछोर नगर परिषद मतदान केंद्र के अंदर मौजूद डबरा तहसीलदार दीपक शुक्ला ने आरोप लगाया है कि इमरती ने  उन्हें फोन लगाकर बाहर बुलाया.

पिछोर नगर परिषद मतदान केंद्र के अंदर मौजूद डबरा तहसीलदार दीपक शुक्ला ने आरोप लगाया है कि इमरती ने उन्हें फोन लगाकर बाहर बुलाया.

पूर्वमंत्री इमरती देवी की वदजुबानी का एक सामने आया है. इस वीडियो में इमरती देवी नारे लगा रहे एक कार्यकर्ता पर भड़क रही है. इतना ही नहीं इमरती देवी ने कार्यकर्ता को अपशब्द कहते हुए वहां से चले जाने की बात कही है. इसके साथ ही तहसीलदार ने भी आरोप लगाया है कि इमरती देवी ने उन्हें भी फटकार लगाते हुए डबरा चले जाने की बात कही है.

अधिक पढ़ें ...

ग्वालियर. पूर्वमंत्री इमरती देवी की बदज़ुबानी एक बार फिर सामने आई है. ग्वालियर के पिछोर नगर परिषद अध्यक्ष चुनाव में पूर्व मंत्री इमरती देवी और मूल भाजपा के समर्थक आपस में भिड़ गए. इस दौरान जब एक कार्यकर्ता ने इमरती देवी मुर्दाबाद के नारे लगा दिए तो गुस्साई इमरती ने भी अपशब्द कहे. पिछोर नगर परिषद के अध्यक्ष चुनाव में इमरती समर्थक रामजानकी ने BJP के दूसरे गुट के नवल भार्गव को 9 वोटों से हरा दिया है.

जब वहां इमरती देवी पहुंची तो नवल के भाई उमेश भार्गव ने उनके खिलाफ मुर्दाबाद के नारे लगाना शुरू कर दिए. इस पर सिंधिया समर्थकों को भी गुस्सा आ गया. वहीं इमरती देवी भी बदज़ुबानी पर उतर आई. गुस्से में आकर उन्होंने कार्यकर्ता को अपशब्द बोलना शुरू कर दिए. यहां से तो पुलिस उमेश भार्गव को थाने ले गई। एक घंटे बैठाने के पुलिस ने उसे छोड़ दिया. अब इस मामले का वीडियो सामने आया है.
तहसीलदार को हड़काकर भगाया
पिछोर नगर परिषद चुनाव के दौरान इमरती देवी ने डबरा तहसीलदार को भी हड़काकर भगा दिया. पिछोर नगर परिषद मतदान केंद्र के अंदर मौजूद डबरा तहसीलदार दीपक शुक्ला ने आरोप लगाया है कि इमरती ने उन्हें फोन लगाकर बाहर बुलाया. इमरती ने कलेक्टर से बात कर तहसीलदार को भगाया. इमरती ने कहा कि- तुम्हारी ड्यूटी नही है तो डबरा चलो. इमरती के हड़काने के बाद तहसीलदार निकले. हालांकि इमरती देवी का कहना है कि जब तहसीलदार की ड्यूटी नहीं तो वो निर्वाचन में कैसे पहुंचे. आपको बता दें कि ये पहला मौका नहीं है जब इमरती देवी ने बदज़ुबानी की हो. इमरती अपने बयानों से अक्सर सुर्खियों में रहती हैं.

Tags: Gwalior news, Madhya pradesh news

अगली ख़बर