ग्वालियर : बीजेपी नेता पंकज सिकरवार की गोली मारकर हत्या

20 फरवरी 2018 को अभिषेक तोमर हत्याकांड में पंकज सिकरवार सहित 7 लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया था.

Sushil Koushik | News18 Madhya Pradesh
Updated: July 11, 2019, 3:23 PM IST
Sushil Koushik | News18 Madhya Pradesh
Updated: July 11, 2019, 3:23 PM IST
ग्वालियर में बुधवार को बीजेपी नेता पंकज सिकरवार की गोली मारकर हत्या कर दी गयी. करीब आधा दर्जन आरोपियों ने सिकरवार पर अंधा-धुंध फायरिंग की, जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गयी.हत्या का कारण 2018 में हुए अभिषेक तोमर हत्याकांड की रंजिश माना जा रहा है.

प्लॉट देखने के बहाने बुलाया
बीजेपी नेता पंकज आज हजीरा स्थित अपने दफ्तर गए थे. उसी दौरान किसी पार्टी ने प्लॉट देखने के बहाने उन्हें बुलाया. पंकज जब प्लॉट का सौदा करने जा रहे थे. तभी संजय नगर पुल के पास पहुंचे, एक बदमाश ज़मीन पर बैठ गया और उनका रास्ता रोक लिया. पंकज के रुकते ही घात लगाए बैठे उसके और साथी आ गए. सबने मिलकर पंकज को घेर लिया और चारों तरफ से गोलियों की बौछार कर दी. पंकज वहीं गिर पड़े और मौत हो गयी. खबर लगते है पुलिस मौके पर पहुंची. पंकज को अस्पताल लाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. पुलिस को मौके से 5 खोके मिले हैं.

इन पर है शक़

हजीरा थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. परिवार का आरोप है कि इस हत्याकांड को अंजाम देने वाला कोई और नहीं बल्कि परमाल तोमर, रमन चौहान, संजय तोमर और उनके 3 अन्य साथी हैं.. परिवार का कहना है पंकज को अपनी जान का ख़तरा था, इसलिए उसने ग्वालियर एसपी से सुरक्षा की मांग की थी. लेकिन पुलिस सुरक्षा नहीं मिल पायी.
अभिषेक तोमर हत्याकांड
20 फरवरी 2018 को अभिषेक तोमर हत्याकांड में पंकज सिकरवार सहित 7 लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया था. कहा जाता है, कि हजीरा थाना क्षेत्र में दो गुटों के बीच में वर्चस्व की लड़ाई चल रही है. इस वजह से आए दिन यहां गोलीबारी की ख़बरें आती रहती हैं.
Loading...

ये भी पढ़ें-भोपाल : 8 साल की बच्ची से रेप और हत्या में विष्णु दोषी करार


First published: July 10, 2019, 8:31 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...