• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • Indore NEWS : देश के सबसे स्वच्छ शहर इंदौर का रेलवे स्टेशन भी एयरपोर्ट की तरह चमकेगा

Indore NEWS : देश के सबसे स्वच्छ शहर इंदौर का रेलवे स्टेशन भी एयरपोर्ट की तरह चमकेगा

रेल बजट में इंदौर की परियोजनाओं के लिए सिर्फ नाम मात्र का बजट दिया गया था.

रेल बजट में इंदौर की परियोजनाओं के लिए सिर्फ नाम मात्र का बजट दिया गया था.

INDORE NEWS : इंदौर के रेलवे स्‍टेशन (Railway Station) का आधुनिकीकरण करके इसे एयरपोर्ट (Airport) जैसी सुविधाओं वाला बनाया जाएगा. इसके अलावा शहर की जनसंख्या को देखते हुए एक नया रेलवे स्टेशन भी बनाने पर विचार चल रहा है. इंदौर-देवास-उज्‍जैन ट्रैक को डबल करने और इंदौर-महू-सनावद-खंडवा-अकोला ट्रैक का गेज परिवर्तन जल्‍द पूरा करने के भी निर्देश दिए गए हैं.

  • Share this:

इंदौर. देश के सबसे स्वच्छ शहर इंदौर (Indore) का रेलवे स्टेशन (Railway Station) भी अब एयरपोर्ट की तरह चमाचम चमकेगा. साफ सफाई तो होगी ही अत्याधुनिक सुविधाएं भी वर्ल्ड क्लास स्टेशन जैसी होंगी. स्टेशन कुछ ऐसा बनाया जाएगा कि इसे देखकर पुराने गंदगी से भरे स्टेशन की बात ही भूल जाएंगे. नये रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने खुद ये भरोसा दिलाया है.

रेल बजट में इंदौर की परियोजनाओं के लिए सिर्फ नाम मात्र का बजट दिया गया था. इसलिए इंदौर-दाहोद रेल लाइन, इंदौर-खंडवा अकोला लाइन जैसी महात्वाकांक्षी परियोजनाओं का काम धीमा पड़ गया था. लेकिन नए रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने अब इंदौर की परियोजनाओं में तेजी लाने की बात कही है. इंदौर के रेलवे स्‍टेशन का आधुनिकीकरण करके इसे एयरपोर्ट जैसी सुविधाओं वाला बनाया जाएगा. इसके अलावा शहर की जनसंख्या को देखते हुए एक नया रेलवे स्टेशन भी बनाने पर विचार चल रहा है. इंदौर-देवास-उज्‍जैन ट्रैक को डबल करने और इंदौर-महू-सनावद-खंडवा-अकोला ट्रैक का गेज परिवर्तन जल्‍द पूरा करने के भी निर्देश दिए गए हैं.

रेल मंत्री से मिले सांसद
इंदौर के सांसद शंकर लालवानी ने रेलमंत्री अश्विनी वैष्‍णव से मुलाकात की और इंदौर की रेलवे से संबंधित समस्याएं बतायीं. सांसद ने कहा रेल मंत्री के साथ सकारात्‍मक मुलाकात हुई है और उन्‍हें इंदौर में रेलवे से जुड़े प्रोजेक्‍ट्स के बारे में विस्‍तार से बताया गया है. इस दौरान इंदौर में फ्लाई ओवर ब्रिज और कोरोना के कारण बंद हुई ट्रेनें दोबारा शुरू करने और कुछ नई ट्रेनें चलाने पर भी बातचीत हुई.

तीन गुना हो गयी इंदौर दाहोद रेल परियोजना की लागत
इंदौर को गुजरात के दाहोद से जोड़ने वाली 205 किलोमीटर की इंदौर- दाहोद रेल परियोजना का काम 12 साल से चल रहा है जो अब तक पूरा नहीं हो पाया है. अभी कोराना के कारण रेल परियोजना का काम रोक दिया गया था. ऐसे में रेलवे की 2022 तक इस मार्ग पर रेल दौड़ाने की घोषणा भी पूरी होती नहीं दिख रही है. 12 साल में इस रेलवे लाइन की लागत भी तीन गुना के करीब पहुंच गई है. 678 करोड़ की परियोजना आज 1640 करोड़ पर पहुंच गई है. जबकि इस पर अभी तक 815 करोड़ रुपए खर्च हो चुके हैं. पीथमपुर में टनल निर्माण, इंदौर-धार के बीच अर्थवर्क, जमीन अधिग्रहण जैसे काम अधर में लटक गए हैं. अभी हाल ही में पूर्व लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने इस परियोजना का निरीक्षण करने की बात कही थी. उन्होंने कहा था कि वे सांसद शंकर लालवानी के साथ इस परियोजना का दौरा करेंगी और इसे जल्द पूरा कराने का प्रयास करेंगी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज