Home /News /madhya-pradesh /

'यह तो शिवराज और दिग्विजय की प्रेम कहानी है'

'यह तो शिवराज और दिग्विजय की प्रेम कहानी है'

विधानसभा भर्ती घोटाले में फंसे पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को उनके विधायक बेटे जयवर्धन सिंह ने निर्दोष बताया है.

विधानसभा भर्ती घोटाले में फंसे पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को उनके विधायक बेटे जयवर्धन सिंह ने निर्दोष बताया है.

विधानसभा भर्ती घोटाले में फंसे पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को उनके विधायक बेटे जयवर्धन सिंह ने निर्दोष बताया है.

  • Pradesh18
  • Last Updated :
    विधानसभा भर्ती घोटाले में फंसे पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को उनके विधायक बेटे जयवर्धन सिंह ने निर्दोष बताया है. पिता को क्लीन चिट देते हुए उन्होंने कहा कि पूरे मामले में दिग्विजय सिंह की कोई गलती नहीं है.

    गुना में प्रदेश 18/ईटीवी मध्यप्रदेश से खास बातचीत में जयवर्धन सिंह ने कहा कि भर्ती का फैंसला तत्कालीन कैबिनेट का था.

    मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर चुटकी लेते हुए जयवर्धन सिंह ने इस मामले को दिग्विजय और शिवराज की प्रेम कहानी बताया, जिसके चलते उन्होंने प्रेम कहानी में खुद को दूर करते हुए कबाव में हड्डी नहीं बनने की बात भी कही.

    तीन घंटे के इंतजार बाद मिली जमानत

    विधानसभा में फर्जी नियुक्ति के मामले में गिरफ्तारी वारंट जारी होने के बाद शनिवार दोपहर को दिग्विजय सिंह सरेंडर करने के लिए अदालत पहुंचे. तीन घंटे के इंतजार के बाद दिग्विजय सिंह की पेशी हुई. अदालत ने उन्हें 30 हजार रुपए के निजी मुचलके पर जमानत पर रिहा कर दिया.

    क्यों जारी हुआ गिरफ्तारी वारंट

    विधानसभा फर्जी नियुक्ति मामले में शुक्रवार को भोपाल पुलिस ने दिग्विजय सिंह सहित आठ आरोपियों के खिलाफ चालान पेश किया था. दिग्विजय को छोड़कर सभी सात आरोपी इस दौरान कोर्ट में मौजूद थे. कोर्ट ने सभी को 30 हजार रुपए की जमानत पर रिहा कर दिया. वहीं, गैरहाजिर रहने पर दिग्विजय के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया था.

    Tags: Guna News

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर