अपनी पुरानी पार्टी के लिए बोले सिंधिया- निम्न स्तर की राजनीति कर रही है कांग्रेस

ज्योतिरादित्य सिंधिया इन दिनों एमपी के दौरे पर हैं.

ज्योतिरादित्य सिंधिया इन दिनों एमपी के दौरे पर हैं.

Gwalior. सिंधिया ने कहा - कांग्रेस अपने आप को राष्ट्रीय स्वतंत्रता आंदोलन में भाग लेने वाली कहती है, वो खुद को विकास और प्रगति में भाग लेने वाली पार्टी बताती है, आज जब विश्व स्तर की विपदा आई है तो कांग्रेस निम्न राजनीति कर रही है.

  • Share this:

ग्वालियर. ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) ने आज पेट्रोल मूल्य वृद्धि के खिलाफ कांग्रेस (Congress) के विरोध प्रदर्शन की राजनीति पर बड़ा हमला किया. सिंधिया ने कहा कांग्रेस कभी वैक्सीन पर भ्रम फैलाकर संकट के समय निम्न राजनीति कर रही है तो कभी महंगाई पर रो रही है. उन्होंने महंगाई को विश्व व्यपी समस्या बताते हुए दावा किया है कि भारत में अगले तीन महीनों में महंगाई कम हो जाएगी.

कांग्रेस संकट के समय राजनीति कर रही है- सिंधिया

ज्योतिरादित्य सिंधिया आज ग्वालियर के दौरे पर थे. उन्होंने यहां सम्भाग के पांच जिलों को एम्बुलेंस दी. मोतीमहल में आयोजित कार्यक्रम में उन्होंने कोविड की तीसरी लहर से निबटने की तैयारियों पर बात की. सिंधिया ने कांग्रेस के पेट्रोल के खिलाफ प्रदर्शन पर तंज़ कसा. उन्होंने कहा जो कांग्रेस अपने आप को राष्ट्रीय स्वतंत्रता आंदोलन में भाग लेने वाली कहती है, विकास और प्रगति में भाग लेने वाली बताती है, आज जब विश्व स्तर की विपदा आई है तो कांग्रेस निम्न राजनीति कर रही है. पहले वैक्सीन के बारे में अफवाह उठाई कहा कि भारतीय वैक्सीन ठीक नहीं है. नहीं लगाना है. आज वही पार्टी कह रही है कि जल्द से जल्द आर्डर करवाइए. कांग्रेस की चित भी मेरी और पट भी मेरी कब तक चलती रहेगी. जब देश की जनता संकट में है, संकट में राजनीति करना इससे निम्न क्या हो सकता है.


3 महीनों में महंगाई पर काबू

महंगाई को लेकर सिंधिया ने कहा आज के हालात में ये पूरी दुनिया की समस्या है. आज विश्व का कोई देश इस संकट से दूर नहीं है. हर देश जूझ रहा है. भारत में रिकवरी हुई है. लेकिन इसी दौरान दूसरी लहर आ गई उसके बाद भी धीरे-धीरे रिकवरी हमारी अवश्य होगी. महंगाई अगर हुई भी है तो दो-तीन महीने के लिए रहेगी. शायद उसके बाद उस पर नियंत्रण भी हम पाएंगे. इस पर हमें विश्वास है. कांग्रेस तो हम पर आरोप लगाती ही रहती है. कांग्रेस के पास क्या काम ही क्या है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज