MP विधानसभा चुनाव 2018: वोटों की गिनती से पहले EVM हैक करने के नाम पर ठगी

एक EVM हैक करने के बदले हैकर कांग्रेस प्रत्याशी रमेश दुबे से ढ़ाई लाख रुपए मांग रहा था. इस संबंध में हैकर और रमेश दुबे के बीच दो दिन से बातचीत चल रही थी और फिर दुबे ने पुलिस में इसकी शिकायत कर दी.

Sushil Koushik | News18 Madhya Pradesh
Updated: December 6, 2018, 9:06 PM IST
Sushil Koushik | News18 Madhya Pradesh
Updated: December 6, 2018, 9:06 PM IST
मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के बाद EVM में गड़बड़ी की शिकायतों के बीच ग्वालियर में एक कथित हैकर पकड़ा गया है. इस हैकर ने भिंड से कांग्रेस प्रत्याशी रमेश दुबे को EVM हैक करने का झांसा दिया था. अब यह शख्स सलाखों के पीछे है.

कांग्रेस प्रत्याशी रमेश दुबे की शिकायत पर ग्वालियर पुलिस ने जिस तथाकथित हैकर अभय जोशी को पकड़ा है. वह खुद को आईआईटी पासआउट और बेंगलुरु का रहने वाला बता रहा था. उसने यह भी दावा किया कि ईवीएम हैक करना उसके लिए चुटकियों का काम है. उसने भिंड के कांग्रेस प्रत्याशी रमेश दुबे को झांसा दिया था कि वह एक चिप के ज़रिए ईवीएम हैक कर देगा. जब ईवीएम से काउंटिग होगी, तो रिजल्ट कांग्रेस के पक्ष में आने लगेगा. हैकर के इस झांसे के बाद रमेश दुबे ने उसे ग्वालियर बुला लिया.

वह एक EVM हैक करने के बदले रमेश दुबे से ढ़ाई लाख रुपए मांग रहा था. इस संबंध में हैकर और रमेश दुबे के बीच दो दिन से बातचीत चल रही थी और फिर दुबे ने इसकी शिकायत पुलिस में कर दी. पुलिस ने अभय जोशी को गिरफ़्तार कर लिया.

कथित हैकर अभय जोशी से पुलिस पूछताछ कर रही है. अब तक की पूछताछ में पता चला है कि वह सिर्फ 12वीं पास है और बेंगलुरु का ना होकर उत्तर प्रदेश के जालौन का रहने वाला है. पुलिस इस बात की जांच कर रही है कि वह वाकई EVM हैकर है या सिर्फ झांसा दे रहा था और अब तक क्या कुछ गड़बड़ी कर चुका है?

Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर