MP News: लॉकडाउन के चलते दिल्‍ली से घर जा रहे थे मजदूर, ग्‍वालियर में बस पलटने से 2 की मौत

ग्वालियर में बस पलटने से चारों तरफ चीख-पुकार मच गई.

ग्वालियर में बस पलटने से चारों तरफ चीख-पुकार मच गई.

Gwalior Bus Accident: जौरासी घाट पर रफ्तार में जा रही बस पलट गई. हादसे में 2 मजदूरों की मौत हो गई. बस पलटने से करीब 15 मजदूर घायल हो गए. ये सभी लॉकडाउन के भय से दिल्ली से छतरपुर जा रहे थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 20, 2021, 12:44 PM IST
  • Share this:
ग्वालियर. ग्वालियर-झांसी हाईवे पर मंगलवार को उस वक्त हड़कंप मच गया जब मजदूरों से भरी ओवरलोड बस पलट गई. हादसे में दो मजदूरों की मौत हो गई, जबकि 15 घायल हैं. सूचना मिलते ही एसपी सहित भारी पुलिस बल मौके पर पहुंच गया. मृतकों की पहचान अभी नहीं हुई है. ये मजदूर लॉकडाउन की आशंका के चलते दिल्ली से पलायन कर रहे थे.

जानकारी के मुताबिक, नई दल्ली से बस (UP93 CT-8593) में ठसाठस भरकर मजदूर परिवार सहित मध्‍य प्रदेश के छतरपुर के लिए रवाना हुए. यह बस ग्वालियर पहुंची मंगलवार सुबह 7 बजे. यहां कुछ मजदूर उतर गए. थोड़ी देर के बाद ड्राइवर ने बस की स्पीड बढ़ा दी.

छत पर बैठे मजदूर आ गए बस के नीचे

बस अभी झांसी रोड पर स्थित जौरासी घाटी पहुंची ही थी कि अनियंत्रित हो गई. गाड़ी पलटने के साथ ही चीख-पुकार मच गई. कुछ मजदूर छत पर बैठे थे वो बस के पलटने से नीचे दब गए. शोर सुनकर आसपास के गांव वाले पहुंच गए और राहत एवं बचाव कार्य में जुट गए. इस दौरान कई यात्रियों ने खिड़कियों से कूदकर जान बचाई.
खिड़की के कांच तोड़कर अंदर घुसे गांववाले, बचाई जान

बताया जाता है कि आसपास के लोगों ने बस की खिड़कियों के कांच तोड़े और अंदर घुसे. वहां से उन्होंने बच्चों-महिलाओं को बाहर निकाला. कुछ महिलाओं ने बस से कूदकर अपनी जान बचाई. इसके बाद पुलिस कप्तान अमित सांघी खुद स्पॉट पर पहुंच गए. पुलिस ने क्रेन की मदद से बस को उठवाकर अन्य घायलों को बाहर निकलवाया. बस में 52 लोगों को बैठाने की सीट थी, लेकिन ज्यादा कमाने के लालच में बस के स्टाफ ने 100 से ज्यादा सवारियां भर लीं. इन मजदूरों से दोगुना किराया भी लिया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज