होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /Gwalior News: NSUI कार्यकर्ता ने जीवाजी यूनिवर्सिटी में की आत्मदाह की कोशिश, मचा हड़कंप

Gwalior News: NSUI कार्यकर्ता ने जीवाजी यूनिवर्सिटी में की आत्मदाह की कोशिश, मचा हड़कंप

MP News in Hindi: परीक्षा में छात्रों के फेल होने के मामले में NSUI कार्यकर्ताओं ने जीवाजी विश्वविद्यालय में किया प्रदर्शन.

MP News in Hindi: परीक्षा में छात्रों के फेल होने के मामले में NSUI कार्यकर्ताओं ने जीवाजी विश्वविद्यालय में किया प्रदर्शन.

MP Latest News: ग्वालियर के जीवाजी विश्वविद्यालय (Jiwaji University Gwalior) में Bsc.परीक्षा में फैल हुए छात्रों के समर ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

NSUI कार्यकर्ता ने जीवाजी यूनिवर्सिटी में पेट्रोल डालकर की आत्मदाह की कोशिश
रि-वेलुवेशन में फैल हुए 500 छात्रों के मामले में विरोध प्रदर्शन करने गए थे NSUI कार्यकर्ता
घटना के बाद विश्वविद्यालय प्रशासन ने फैल हुए छात्रों के मामले की जांच कराने की कही बात

ग्वालियर. जीवाजी विश्वविद्यालय में उस वक्त हड़कंप मच गया है जब Bsc.परीक्षा में फैल हुए छात्रों के समर्थन में विरोध प्रदर्शन कर रहे NSUI के एक छात्र ने खुद पर पेट्रोल डालकर आत्मदाह की कोशिश की. जीवाजी यूनिवर्सिटी के परीक्षा नियंत्रक के कक्ष में  एनएसयूआई के छात्र ने पेट्रोल डालकर खुदकुशी की कोशिश की. लेकिन वहां मौजूद उसके सहयोगियों ने उसे पकड़ लिया. घटना के बाद विश्वविद्यालय प्रशासन ने फैल हुए छात्रों के मामले की जांच कराने की बात कही है.

ग्वालियर के जीवाजी विश्वविद्यालय में गुरुवार को NSUI के कार्यकर्ता प्रदर्शन करने के लिए पहुंचे थे. दरसअल जीवाजी विश्वविद्यालय के बीएससी सेकंड ईयर और थर्ड ईयर की परीक्षा में करीब 500 से ज्यादा फेल हो गए थे. इन छात्रों ने री-वेल्यूवेशन के लिए फॉर्म जमा किए थे. री-वेल्यूवेशन के बाद भी कुछ छात्रों को छोड़कर बाकी छात्रों के नंबरों में कोई तब्दीली नहीं हुई, जिसके चलते अधिकांश छात्र फैल ही रहे.

यूनिवर्सिटी में प्रदर्शन कर रहे थे कार्यकर्ता

फैल हुए छात्रों के पक्ष में NSUI के कार्यकर्ता विरोध प्रदर्शन पर उतारू हो गए. गुरुवार दोपहर जीवाजी विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक कक्ष में पहुंच NSUI कार्यकर्ताओं ने नाराजगी जताई. इसी दौरान NSUI कार्यकर्ता प्रथम भदोरिया ने परीक्षा नियंत्रक से बहस होने के बाद खुद पर पेट्रोल डालकर आत्मदाह की कोशिश की. इस दौरान वहां मौजूद साथी छात्रों ने उसके हाथ से पेट्रोल की बोतल छुड़ा ली.

ये भी पढ़ें:  मां ने 3 साल की मासूम के साथ की खौफनाक हरकत, फिर खुद लगाया मौत को गले

विश्वविद्यालय प्रशासन ने दिया जांच का आश्वासन

खुदकुशी की कोशिश करने वाले छात्र प्रथम भदौरिया का कहना है कि जीवाजी विश्वविद्यालय प्रशासन ने 500 से ज्यादा छात्रों को फेल कर उनके भविष्य से खिलवाड़ किया है. कई छात्रों को तो इरादतन जीरो नंबर दिए गए हैं, इसलिए 500 छात्रों के भविष्य को दृष्टिगत रखते हुए उसने खुदकुशी के लिए कदम उठाया था. वही विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार R K बघेल का कहना है कि रिवैल्युएशन में कुछ छात्रों के नंबर बढ़े हैं बाकी छात्र नंबर ना बढ़ने के चलते फेल हुए हैं. इसको लेकर NSUI के कार्यकर्ता विरोध कर रहे थे. रजिस्टर का कहना है कि अगर किसी छात्र की कॉपी में नंबर के साथ गड़बड़ हुई है तो इसकी जांच करा ली जाएगी.

Tags: Gwalior news, Mp news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें