Home /News /madhya-pradesh /

ट्रैफिक जाम में फंसी महिला ने ऑटो में दिया बच्चे को जन्म, हॉर्न के शोर में गूंजी नन्हें की किलकारी

ट्रैफिक जाम में फंसी महिला ने ऑटो में दिया बच्चे को जन्म, हॉर्न के शोर में गूंजी नन्हें की किलकारी

ग्वालियर में गर्भवती ने ऑटो में बच्चे को जन्म दिया. जच्चा और बच्चा दोनों स्वस्थ्य हैं.

ग्वालियर में गर्भवती ने ऑटो में बच्चे को जन्म दिया. जच्चा और बच्चा दोनों स्वस्थ्य हैं.

Madhya Pradesh News: मध्य प्रदेश के ग्वालियर में ऑटो में बच्चे का जन्म होने का मामला सामने आया है. गर्भवती को अस्पताल ले जा रही ऑटो ट्रैफिक जाम में फंस गई. करीब एक घंटे तक जाम नहीं खुला. इसी दौरान महिला का प्रसव पीड़ा बढ़ गई और उसने कुछ अन्य महिलाओं की मदद से ऑटो में ही बच्चे को जन्म दे दिया. इस घटना का फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

अधिक पढ़ें ...

ग्वालियर. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के ग्वालियर में पहले ट्रैफिक जाम के चलते बस या ट्रेन मिस हो जाती थी, लेकिन ट्रैफिक जाम के हालात इस कदर खराब हो गए कि जाम के दौरान किलकारियां भी गूंजने लगी हैं. जी हां बीते सोमवार की शाम को ऐसा ही एक वाकया सामने आया. बहोड़ापुर इलाके में जाम में फंसे ऑटो में महिला ने बच्चे को जन्म दिया. ऑटो करीब एक घंटे तक जाम में फंसा रहा. इसी दौरान तेज दर्द होने पर महिला के परिजनों ने एम्बुलेंस को कॉल किया, एम्बुलेंस आई, लेकिन वो भी जाम के चलते ऑटो तक नहीं पहुंच पाई. इस दौरान वहां से गुजर रही एक दाई ने महिला की डिलिवरी कराई. जाम खुलने के बाद परिजन मां- बच्चे को लेकर अस्पताल पहुंचे, जहां डॉक्टरों ने दोनों को स्वस्थ बताया. इस घटना के चलते बच्चे को सभी ऑटो कहकर बुला रहे हैं.

ग्वालियर के आनंद नगर में रहने वाले नरेश कुशवाहा चॉकलेट फैक्ट्री में मिस्त्री की नौकरी करता है. नरेश की गर्भवती पत्नी अनीता को डॉक्टर ने 10 नवंबर की डिलिवरी डेट दी थी, डेट निकलने के बाद भी उसकी डिलिवरी नहीं हुई. सोमवार शाम को जब अनीता को प्रसव पीड़ा हुई, जिसके चलते सास मालती अपनी देवरानी के साथ अनिता को ऑटो में बैठाकर लक्ष्मीगंज प्रसूति गृह रवाना हुई. इनका ऑटो बहोड़ापुर के गणेश मंदिर पहुंचा, जहां लक्ष्मीगंज जाने वाले रोड पर जाम लग गया. धीरे धीरे करीब आधा किलोमीटर तक जाम फैल गया. इधर ऑटो में बैठी अनिता का दर्द बढ़ने लगा, इसी दौरान पैदल गुजर रही एक महिला ने ऑटो में बैठी अनिता को दर्द से कराहते हुए देखा तो बताया कि वो दाई का काम करती है, इसको प्रसव कभी भी हो सकता है. वहां मौजूद कुछ लोगों ने एम्बुलेंस को कॉल किया, लेकिन एम्बुलेंस भी जाम के चलते दूर ही फंस गई.

ऑटो में ही हो गया बच्चे का जन्म
जब अनीता की हालत खराब होने लगी तो वहां मौजूद दाई मां ने प्रसव की तैयारी की, महिलाओं ने ऑटो में पर्दे लगा दिए, और फिर अनीता का सफल प्रसव हो गया. अनीता ने एक सुंदर बच्चे को जन्म दिया. दाई ने ऑटो के बाहर खड़ी सास को बताया कि बेटा हुआ है तो सास मालती और पार्वती की खुशी का ठिकाना नही रहा. इसी दौरान जाम भी खुल गया. तब सास मालती बहू अनीता को ऑटो से लेकर लक्ष्मीगंज प्रसूति गृह पहुंची. जहां नर्स ने मां – बच्चे का चेकअप करने के बाद दोनों को पूरी तरह स्वस्थ्य हैं. फिलहाल इस बच्चे को परिवार वाले ऑटो कह कर बुला रहे हैं.

बदहाल ट्रैफिक के चलते अक्सर लगते है जाम
शादी विवाह का सीजन होने ज चलते शहर में जाम के हालत बनने लगे हैं. सोमवार को बहोड़ापुर के मेन रोड पर एक घंटे तक जाम लगा रहा, लेकिन इस दौरान ट्रैफिक पुलिस कहीं नजर नही आई. अगर हालात बिगड़ते तो न सिर्फ बच्चे बल्कि अनीता की जान भी संकट में पड़ सकती थी. बहोड़ापुर के अलावा, नई सड़क, इंदरगंज, शिंदे की छावनी इलाकों में लचर ट्रैफिक व्यवस्था से जाम के हालात बनते है.

Tags: Gwalior news, Madhya pradesh news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर