लाइव टीवी

ग्वालियर: सेंट्रल जेल में पेड़ से लटकी मिली कैदी की लाश, लड़की को भगाने के मामले में था बंदी

Sushil Koushik | News18 Madhya Pradesh
Updated: January 27, 2020, 2:31 PM IST
ग्वालियर: सेंट्रल जेल में पेड़ से लटकी मिली कैदी की लाश, लड़की को भगाने के मामले में था बंदी
ग्वालियर सेंट्रल जेल में पेड़ से लटकी मिली कैदी की लाश. (फाइल फोटो)

जेल प्रशासन ने इस मामले में केंद्रीय जेल (Gwalior Central Jail) के एक मुख्य प्रहरी और दो अन्‍य प्रहरियों को निलंबित कर दिया है. मामले की विभागीय जांच भी शुरू कर दी गई है.

  • Share this:
ग्वालियर. सेंट्रल जेल (Gwalior Central Jail) में पॉक्सो एक्ट में बंद एक आरोपी की लाश पेड़ पर लटकी मिली है. जेल प्रशासन का कहना है कैदी ने फांसी लगाकर खुदकुशी की है, लेकिन परिवार वालों ने जेल प्रशासन पर साजि़श का आरोप लगाया है. इस बीच, जेल प्रशासन ने मामले में लापरवाही बरते वाले तीन जेल प्रहरियों को निलंबित कर दिया है. कैदी पॉक्सो एक्ट में बंदी था. उस पर एक नाबालिग लड़की को भगाने का आरोप था. पूरे मामले की मजिस्ट्रियल जांच शुरू हो गई है.

बैरक से गायब हुआ, पेड़ पर मिली लाश
ग्वालियर केंद्रीय जेल में बीती शाम तकरीबन पांच बजे जब बैरकों में लौट रहे कैदियों की गिनती हुई तो एक कैदी कम पाया गया. रजिस्टर से मिलान हुआ तो 20 साल का कैदी नरोत्तम रावत गायब मिला. वो अपने बैरक में नहीं पहुंचा था, लिहाजा प्रहरियों ने तलाश किया तो जेल अस्पताल के पीछे एक पेड़ पर नरोत्तम की लाश लटकी मिली. जेलर ने जेल अधीक्षक मनोज साहू को खबर दी. सूचना मिलते ही जेल अधीक्षक ने डीजी, कलेक्टर औऱ ग्वालियर एसपी को मामले की जानकारी दी. जेल अधीक्षक का कहना है 23 जनवरी को कोर्ट के आदेश पर बंदी नरोत्तम को ग्वालियर केंद्रीय जेल लाया गया गया था. बीती शाम साढ़े सात बजे नरोत्तम की लाश परिसर स्थित पेड़ पर लटकी मिली.



लापरवाही पड़ी भारी, तीन प्रहरी सस्पेंड
जेल अधीक्षक के मुताबिक नरोत्तम ग्वालियर जिले के इटमा गांव के रहने वाला था. जेल परिसर में फांसी लगाने की घटना गंभीर लापरवाही है. लिहाजा इस मामले में लापरवाही बरतने वाले एक मुख्य प्रहरी ओम प्रकाश सुमन, प्रहरी प्रेम नारायण गोयल और मनोज त्यागी को निलंबित कर दिया गया है. इन तीनों के खिलाफ विभागीय जांच भी की जाएगी.

क़ैदी की मौत पर मजिस्ट्रियल जांच शुरूजेल प्रशासन से जानकारी मिलने के बाद बहोड़ापुर पुलिस ने कैदी नरोत्तम का शव पीएम के लिए भिजवाया. बहोड़ापुर थाना के सब इंस्पेक्टर डीएस शर्मा ने बताया कि इटमा गांव में मृतक के परिवार को खबर दी. शव की पीएम कराने के बाद रिपोर्ट के आधार पर मामले की जांच की जाएगी. मृतक के परिवार वालों का कहना है नरोत्तम की मौत के पीछे जेल प्रशासन की साजिश है.

ये भी पढ़ें-दिल्ली के चुनावी दंगल में MP के बीजेपी नेताओं की एंट्री, मैदान में उतरे दिग्गज

CPM नेता रमेश प्रजापत की मौत: खुद को लगाई थी आग, थैले में थे CAA विरोधी पर्चे

 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ग्वालियर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 27, 2020, 2:17 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर