सिंधिया ने कहा- मैं हजार बार कमलनाथ के दर पर गया लेकिन.... उन्होंने MP की जनता से गद्दारी की है

सिंधिया ग्वालियर-चंबल के 4 दिन के दौरे पर हैं.
सिंधिया ग्वालियर-चंबल के 4 दिन के दौरे पर हैं.

प्रदेश में हो रहे विधान सभा उपचुनाव के लिए सिंधिया (Scindia) ने कहा ये उप चुनाव नहीं हैं बल्कि प्रादेशिक चुनाव है. इसमें BJP प्रचंड बहुमत से जीतेगी.

  • Share this:
ग्वालियर. ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) का आज से ग्वालियर चंबल दौरा शुरू हो गया. उपचुनाव के लिए सिंधिया ने कहा उनकी जमीनी स्तर पर जोरदार तैयारी है. सभी 28 सीटों पर बीजेपी प्रचंड बहुमत से जीतेगी. सिंधिया ने कल अनूपपुर में पूर्व सीएम कमलनाथ (Kamalnath) के काफिले पर हमले की घटना पर कहा प्रजातंत्र में किसी के काफिले पर पथराव करना निंदनीय है. राजनीति का एक स्तर होना चाहिए.

ज्योतिरादित्य सिंधिया बीजेपी प्रत्याशियों के चुनाव प्रचार के लिए निकल पड़े हैं. अगले चार दिन वो ग्वालियर-चंबल के दौरे पर रहेंगे. आज ग्वालियर पहुंचने पर मीडिया के सवाल पर उन्होंने कहा कमलनाथ के काफिले पर हमले की घटना निंदाजनक है.राजनीति और प्रजातंत्र में सबको अपना अपना पक्ष रखने का आजादी होती है. राजनीति का एक स्तर होना चाहिए. जिस तरह से कांग्रेस ने राजनीति का स्तर गिराया है, उसे अपने गिरेबान में झांकना चाहिए.

ये उपचुनाव नहीं
12 अक्टूबर तक सिंधिया ग्वालियर चंबल की 16 विधानसभा क्षेत्रों के बूथ और मंडल सम्मेलनों में शिरकत करेंगे. प्रदेश में हो रहे विधान सभा उपचुनाव के लिए सिंधिया ने कहा ये उप चुनाव नहीं हैं बल्कि प्रादेशिक चुनाव है. इसमें BJP प्रचंड बहुमत से जीतेगी. उप चुनाव तैयारी पर सिंधिया ने कहा बीजेपी एक लक्ष्य को लेकर जमीन पर उतर रही है. ये उपचुनाव नहीं प्रादेशिक चुनाव है.कई प्रदेशों में कुल 40 सीटें होती हैं, एमपी में 28 सीटों पर चुनाव है ये बड़ा चुनाव है. सिंधिया ने कहा मुझे भरोसा है उपचुनाव में बीजेपी एकतरफा प्रचंड बहुमत से जीतेगी.



कमलनाथ को कुर्सी और तिजौरी की चिंता
सिंधिया ने कमलनाथ के ग्वालियर विकास को लेकर दिए बयान पर निशाना साधा. कमलनाथ ने कहा था कि उन्होंने ग्वालियर चंबल में राजनीति नहीं की इस क्षेत्र के विकास की जिम्मेदारी सिंधिया पर छोड़ रखी थी. इस पर सिंधिया ने कहा कमलनाथ का ग्वालियर के लोगों ने 15 महीने में एक बार भी चेहरा नहीं देखा है. अगर कमलनाथ कहते हैं कि उन्होंने मुझ पर जिम्मेदारी सौंपी थी, तो मैं हजार बार कमलनाथ के पास दस्तक देने गया, योजनाएं लेकर गया लेकिन उन्होंने एक कदम नहीं उठाया. कमलनाथ ने ग्वालियर चंबल ही नहीं पूरे एमपी के साथ गद्दारी की है. कमलनाथ ने सिर्फ कुर्सी और तिजोरी की चिंता की विकास की चिंता नहीं की. अब शिवराज जी पूरे प्रदेश के विकास के लिए पैसा दे रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज