मंत्री इमरती देवी से उलझना पड़ा भारी, डबरा से हटाईं गई SDM जयति सिंह

News18 Madhya Pradesh
Updated: August 25, 2019, 2:20 PM IST
मंत्री इमरती देवी से उलझना पड़ा भारी, डबरा से हटाईं गई SDM जयति सिंह
ग्वालियर कलेक्ट्रेट में SDM जयति सिंह अटैच, मंत्री इमरती देवी से उलझना पड़ा भारी

नाराज इमरती देवी ने कहा था “डबरा में या तो एसडीएम रहेगी या फिर मैं”. इस संबंध में उन्होंने मुख्यमंत्री कमलनाथ को पूरी जानकारी दी और एसडीएम के प्रति अपनी नाराजगी भी जताई. उन्होंने एसडीएम जयति सिंह को डबरा से हटाने की मांग की थी. इसी के बाद एसडीएम जयति सिंह को डबर से हटाकर ग्वालियर कलेक्ट्रेट कार्यालय में अटैच कर दिया गया है.

  • Share this:
डबरा की एसडीएम जयति सिंह (SDM Jayati Singh) को महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी (Minister Imrati Devi) का विरोध करना भारी पड़ गया. मुख्य सचिव एसआर मोहंती (Chief Secretary SR Mohanty) ने शनिवार को एसडीएम जयति सिंह को डबरा से हटाकर ग्वालियर कलेक्ट्रेट में अटैच कर दिया. दरअसल, बुधवार को मंत्री इमरती देवी ने कृषि उपज मंडी (Agricultural produce market) की कुछ बंद दुकानों की सील खुलवा दी थीं. इन दुकानों को एसडीएम जयति सिंह ने नियमित रूप से किराया न जमा करने के कारण सील करवाया था.

व्यापारियों के समर्थन में उतरी थीं इमरती देवी

दुकानों का किराया न देने पर एसडीएम ने 26 दुकानों को सील कर दिया था. इसके बाद कुछ व्यापारियों ने किराया जमा किया तो उनकी दुकानों की सील खोल दी गई थी. वहीं 11 व्यापारियों ने किराया नहीं जमा किया. बुधवार को व्यापारियों के समर्थन में मंत्री इमरती देवी (Minister Imrati Devi) डबरा पहुंचीं. उन्होंने कुछ व्यापारियों से मंडी प्रशासन को चेक दिलवाकर दुकानें खुलवा दीं.  अलगे दिन यानि गुरुवार को एसडीएम ने व्यापारियों पर अवैध रूप से सील तोड़ेने के मामले में कार्रवाई की बात कही थी. उन्होंने इस मामले की मजिस्ट्रियल जांच की बात भी कही थी.

मंत्री इमरती देवी ने सीएम कमलनाथ से की थी शिकायत

कलेक्टर से जांच की बात सुनकर घबराए व्यापारियों ने मंत्री इमरती देवी (Minister Imrati Devi) को पूरे मामले से अवगत कराया.  नाराज इमरती देवी ने कहा था “डबरा में या तो एसडीएम रहेगी या फिर मैं”.  मामले में मंत्री इमरती देवी का कहना है कि उन्होंने व्यापारियों से चेक दिलवाए. इसके साथ ही ये भी आश्वासन दिया था कि जो व्यापारी किराया नहीं देंगे, उनका किराया वो खुद जमा करवा देंगी. लेकिन एसडीएम ब्याज जमा कराने की बात को लेकर अड़ गयीं.  इस बाबत उन्होंने मुख्यमंत्री कमलनाथ को पूरी जानकारी दी और एसडीएम के प्रति अपनी नाराजगी भी जताई.  इसी दौरान उन्होंने एसडीएम जयति सिंह को डबरा से हटाने की मांग की.

मंत्री इमरती देवी की शिकायत के बाद एसडीएम जयति सिंह को ग्वालियर कलेक्ट्रेट से अटैच किया गया-SDM Jayati Singh Attache in Gwalior Collectorate
मंत्री इमरती देवी की शिकायत के बाद एसडीएम जयति सिंह को ग्वालियर कलेक्ट्रेट से अटैच किया गया.


मंत्री से उलझने पर जयति सिंह को मिली सजा
Loading...

गौरतलब है कि भोपाल में मामला गर्माने के बाद शनिवार को मुख्य सचिव एसआर मोहंती (Chief Secretary SR Mohanty) ने एसडीएम को ग्वालियर कलेक्ट्रेट में अटैच कर दिया. इसके साथ ही उन्होंने कलेक्टर अनुराग चौधरी (Collector Anurag Chaudhary) से भी मामले की जानकारी मांगी है.  कलेक्टर अनुराज चौधरी ने बताया कि मामले की जांच के लिए अपर कलेक्टर किशोर कन्याल को नियुक्त किया है.

ये भी पढ़ें - जवान बोला- इंसाफ नहीं मिला तो बन जाऊंगा दूसरा पान सिंह तोमर

ये भी पढ़ें - पूर्व MLA सुरेंद्र नाथ के बचाव में शिवराज, कहा - तुगलकी कदम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ग्वालियर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 25, 2019, 12:47 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...