ग्वालियर: सीवर ट्रीटमेंट प्लांट के गड्ढे में नहाते समय दो दोस्त ले रहे थे सेल्फी, डूबने से मौत

ग्वालियर नगर निगम के सीवर ट्रीटमेंट प्लांट के गड्ढे में नहाते समय दो छात्र सेल्फी ले रहे थे कि डूबने से मौत उनकी मौत हो गई.

News18 Madhya Pradesh
Updated: July 11, 2019, 2:07 PM IST
ग्वालियर: सीवर ट्रीटमेंट प्लांट के गड्ढे में नहाते समय दो दोस्त ले रहे थे सेल्फी, डूबने से मौत
ग्वालियर: सीवर ट्रीटमेंट प्लांट के गड्ढे में नहाते समय दो दोस्त ले रहे थे सेल्फी, डूबने से मौत (सांकेतिक तस्वीर)
News18 Madhya Pradesh
Updated: July 11, 2019, 2:07 PM IST
मध्य प्रदेश में ग्वालियर नगर निगम के सीवर ट्रीटमेंट प्लांट के लिए खोदे गए गड्ढे में नहाने उतरे दो नाबालिग छात्र सेल्फी लेते समय गहरे पानी में डूब गए. घटना बुधवार दोपहर लाल टिपारा के पास की है. वहीं जब दोनों छात्र घर नहीं पहुंचे, तो परिजन उनको तलाशते हुए नदी के पास पहुंचे, जहां उनके कपड़े और मोबाइल गड्ढे के बाहर रखे हुए मिले. गोताखोरों ने तलाश कर शाम करीब 6 बजे दोनों छात्रों के शवों बाहर निकाला. एक छात्र के मोबाइल से उनकी मौत से पहले की आखिरी सेल्फी भी मिली है.

ट्रीटमेंट प्लांट के गड्ढे में डूबने से मौत

सीवर ट्रीटमेंट प्लांट- Sewer treatment plant
मां-बाप का इकलौता बेटा था अभिषेक


आपको बता दें कि उपनगर मुरार के लाल टिपारा निवासी 16 वर्षीय अभिषेक तोमर 9वीं कक्षा का छात्र था. वह अपने मां-बाप का इकलौता बेटा था, उसकी दो बहन हैं जिनकी शादी हो चुकी है. घर की आर्थिक स्थिति भी ठीक नहीं है. छात्र का परिवार बकरी और भैंस पालने का काम करते हैं.

नहाने के लिए निकले थे दोनों दोस्त

सेल्फी, selfie
नहाने के लिए निकले थे दोनों दोस्त (सांकेतिक तस्वीर)


बहरहाल, पास ही रिषी गालव स्कूल के पास अभिषेक का 15 वर्षीय दोस्त अतुल (15) रहता है. इसी क्रम में बुधवार सुबह अतुल और अभिषेक दोनों बकरियां लेकर लाल टिपारा के पास चराने गए थे. वहां नगर निगम के सीवर ट्रीटमेंट प्लांट के लिए खोदे गए गड्ढे में बरसात का पानी भरा हुआ था. गड्ढा तालाब जैसा आर्कषक लग रहा था. इसलिए दोनों छात्र उसमें नहाने के लिए उतर गए.
Loading...

सेल्फी लेते वक्त डूब गए

अभिषेक कुछ गहरे में उतरा और अतुल किनारे पर खड़ा होकर अपनी सेल्फी ले रहा था. पीछे अभिषेक भी दिख रहा था. इसके बाद अतुल भी सेल्फी लेते समय गहरे पानी में उतर गया. कुछ देर बाद एक दूसरे को डूबता देख दोनों ने बचने का संघर्ष किया, लेकिन दोनों ही डूब गए.

10 फीट गहरा था गड्ढा

शाम को जब बच्चे घर नहीं पहुंचे तो दोनों के परिजन लालटिपारा पहुंचे. वहां उनके कपड़े और मोबाइल देखकर उनके डूबने की आशंका पर परिजने उन्हें ढूंढने निकले, लेकिन वे कहीं नहीं मिले. इसके बाद परिजनों ने इसकी सूचना पुलिस को दी.

बाद में मौके पर गोताखोरों को भेजकर छात्रों के शवों को करीब 10 फीट की गहराई से निकालवाया गया. फिलहाल, पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया है.

ये भी पढ़ें:- My Name is Khan... मैं करता हूं एक अंधी गाय की सेवा 

ये भी पढ़ें:- बच्ची का रेप कर हत्या करने वाले विष्णु को फांसी की सज़ा
First published: July 11, 2019, 2:07 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...